मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामीSocial Media

CM धामी ने देहरादून में कानून व्यवस्था की स्थिति और महिला सुरक्षा की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की

प्रदेश में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण की दिशा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने आज शनिवार को एक अहम बैठक ली।

देहरादून, भारत। प्रदेश में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण की दिशा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने आज शनिवार को एक अहम बैठक ली। इस दौरान महिला सुरक्षा को लेकर एक ऐप भी लांच किया।

बता दें कि, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज सचिवालय में महिला सुरक्षा एवं सशक्तिकरण के संबंध में समीक्षा बैठक ली, साथ ही उत्तराखंड पुलिस एप के अन्तर्गत सरकारी एवं गैरसरकारी कार्यालयों में कार्यरत महिलाओं के लिए गौराशक्ति विकल्प के तहत स्व रजिस्ट्रेशन सुविधा का शुभारंभ किया। बैठक में जानकारी दी गई कि, इस एप में रजिस्ट्रेशन करने वाली सभी महिलाओं की रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी को गोपनीय रखा जाएगा।

पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि, महिला सुरक्षा के लिए बेहतर ईको सिस्टम विकसित करने हेतु यह एप सहायक सिद्ध होगा। "सशक्त महिला-समृद्ध प्रदेश'' की भावना को आत्मसात कर हम महिला हितों के प्रति पूर्णतः संकल्पबद्ध हैं।

पुष्कर सिंह धामी ने कही यह बात:

पुष्कर सिंह धामी ने बयान देते हुए कहा कि, "कानून व्यवस्था, महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण पर हम लोगों ने विस्तार से चर्चा की है। हमारे लिए प्रदेश में मातृशक्ति की सुरक्षा बहुत आवश्यक है।"

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि, "उसको लेकर नियमित समीक्षा करना भी तय किया गया है। महिलाओं से जुड़े मामलों पर न्यायालय में किस प्रकार पैरवी हुई है इस पर भी समीक्षा करेंगे। जो अधिकारी सही से काम नहीं करेंगे उन पर कार्रवाई करेंगे।"

पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि, "महिला सुरक्षा एवं सशक्तीकरण के दृष्टिगत सरकारी एवं गैरसरकारी कार्यालयों में कामकाजी महिलाओं को इस एप में रजिस्ट्रेशन के लिए प्रेरित किया जाए। इसका व्यापक स्तर पर प्रचार एवं प्रसार भी किया जाए। सभी जनपदों में इसके लिए संगोष्ठियों एवं अन्य प्रचार माध्यमों से प्रचारित किया जाए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि गौरा शक्ति के तहत प्राप्त होने वाली शिकायतों पर संबंधित थानों से त्वरित कारवाई की जाए।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co