बागनाथ मंदिर में जीर्णोद्धार व सरयू पुल का लोकार्पण
बागनाथ मंदिर में जीर्णोद्धार व सरयू पुल का लोकार्पणSocial Media

CM पुष्कर धामी ने बाबा बागनाथ मंदिर में की पूजा, जीर्णोद्धार व सरयू पुल का किया लोकार्पण

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज बागेश्वर स्थित बागनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली एवं तरक्की की कामना की है।

उत्तराखंड, भारत। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बागेश्वर के दौरे पर हैं। इस दौरान आज रविवार को उन्होंने बागेश्वर स्थित बागनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली एवं तरक्की की कामना की है।

CM धामी ने जीर्णोद्धार व सरयू पुल का लोकार्पण किया :

बागेश्वर स्थित बागनाथ मंदिर में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जीर्णोद्धार व सरयू पुल का लोकार्पण किया। साथ ही उनके द्वारा बाबा बागनाथ मंदिर में हुए विकास कार्यों को देखा एवं मंदिर परिसर में पौधारोपण भी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ कैबिनेट मंत्री श्री चंदन राम दास, BJP सांसद श्री अजय टम्टा, विधायक श्री सुरेश गडिया सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

तो वहीं प्रखंड के मुख्यमंत्री विश्वास नैना में अपने इस दौरे के दौरान ₹316.91 लाख की लागत से बने बागनाथ मन्दिर-नुमाईषखेत पुल, बागनाथ मंदिर में धर्मशाला एवं रेनोवेशन कार्य तथा छत पर काले रंग की पटाल व क्लेडिंग कार्य का लोकार्पण किया गया है। इस मौके पर उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए यह भी बताया कि, ''हमने तय किया है कि, हम जितनी भी योजनाओं का शिलान्यास करेंगे, उन सभी योजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे।''

कोट भ्रामरी मंदिर में लगे मेले का शुभारंभ :

बता दें कि, इसी के एक दिन पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह द्वारा कोट भ्रामरी मंदिर में लगे मेला का शुभारंभ किया गया था और उन्होंने उत्तराखंड के लोगों और पहाड़ी संस्कृति की खूब तारीफ करते हुए कहा था कि, ''पहाड़ के लोग हजारों सालों से कठिन जीवन में जीने के बावजूद भी अपनी खेती बाड़ी के साथ-साथ धार्मिक कार्यक्रमों में बढ़ चढ़ कर भाग लेते हैं, यह उनकी आस्था का प्रतीक है। मेलों में हमारी सामाजिक, सांस्कृतिक विरासत की झलक देखने को मिलती है, जो हमारी पहचान है। उत्तराखंड की संस्कृति (Culture of Uttarakhand) अन्य प्रदेशों से भिन्न है, जो आस्था से जुड़ी हुई है। मां नंदा देवी उत्तराखंड की कुलदेवी (Maa Nanda Devi Kuldevi of Uttarakhand) हैं, नंदा देवी की हर गांव में पूजा होती है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co