सीएम धामी ने भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत के जन्मदिन समारोह में लिया हिस्सा

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने आज देहरादून में भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत के 135वें जन्मदिन समारोह में हिस्सा लिया।
उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामीSocial Media

उत्तराखंड, भारत। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने आज देहरादून में भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत के 135वें जन्मदिन समारोह में हिस्सा लिया। उन्होंने यहां आयोजित भारत रत्न पंडित गोविन्द बल्लभ पन्त जी के 135वाँ जन्मदिवस समारोह कार्यक्रम को संबोधित किया।

सीएम धामी ने कही यह बात:

भारत रत्न पंडित गोविन्द बल्लभ पन्त जी के 135वाँ जन्मदिवस समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि, "मैं सर्वप्रथम इस कार्यक्रम में मौजूद आप सभी लोगों को कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु शुभकामना देता हूँ। हमारे लिए पंडित गोविंद बल्लभ पंत जी पथ प्रदर्शक रहे हैं।"

पुष्कर सिंह धामी ने इस दौरान कहा कि, "आज़ादी के 75 साल पूरे होने पर हमने अमृत महोत्सव मनाया। इसका मक़सद पंत जी जैसे हज़ारों लोगों को स्मरण करने का था, जिन्होंने देश की आज़ादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया।"

उन्होंने कहा कि, "मैं अपने नौजवान साथियों से कहना चाहता हूं कि, जीवन में समय सबसे बहुमूल्य है। आप सब संकल्प लें कि, हमें इसका सदुपयोग करना है।"

भारत रत्न पंडित गोविन्द बल्लभ पन्त जी के 135वाँ जन्मदिवस समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुष्कर सिंह धामी ने कहा, "देश की आज़ादी से लेकर देश की आज़ादी के बाद उन्होंने जो काम किए वो सब हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत हैं।"

वहीं, गोविंद बल्लभ पंत के बारे में बात करे, तो उत्तर प्रदेश के पहले और देश के चौथे मुख्यमंत्री गोविंद बल्लभ पंत ने राजनीति की शुरुआत बरेली से की थी। उनका इस शहर से कोई खास लगाव नहीं था। यहां आना इसलिए पड़ा, क्योंकि कांग्रेस ने देश के पहले विधानसभा चुनाव-1951 में बरेली शहर सीट से चुनाव लड़ने भेज दिया था।

गोविंद बल्लभ पंत का जन्म आज के दिन 10 सितंबर 1857 में गांव खूंट, अल्मोड़ा उत्तराखंड (जोकि पहले उ.प्र.) में हुआ था। वह महाराष्ट्रियन मूल के थे, मां का नाम श्रीमती गोविंदी बाई था। माता के नाम से ही उनको गोविन्द नाम मिला था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co