योगी सरकार की नई गाइडलाइन: स्कूल हुए बंद, बिना अनुमति नहीं होंगे कार्यक्रम
योगी सरकार की नई गाइडलाइनSocial Media

योगी सरकार की नई गाइडलाइन: स्कूल हुए बंद, बिना अनुमति नहीं होंगे कार्यक्रम

मंगलवार को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना से रोकथाम के लिए 'नई गाइडलाइन्स' जारी कर दी है। इन गाइडलाइन्स में स्कूली बच्चों के लिए भी अहम ऐलान किया गया है।

उत्तर प्रदेश। भारत में कोरोना की जंग जारी है, हर दिन कोविड-19 के हजारों नए मामले सामने आ ही रहे हैं। कुछ राज्यों में एक बार फिर कोरोना का प्रकोप काफी तेजी से बढ़ रहा है। इन्हीं राज्यों में उत्तर प्रदेश का नाम भी शामिल है। ऐसे में मंगलवार को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना से रोकथाम के लिए 'नई गाइडलाइन्स' जारी कर दी है। इन गाइडलाइन्स में स्कूली बच्चों के लिए भी अहम ऐलान किया गया है।

नई गाइडलाइन्स की घोषणा :

दरअसल, उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार की शाम प्रदेश के अधिकारियों के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की। इस बैठक में कोरोना वायरस से बचाव को लेकर चर्चा की। इसके साथ ही इस बैठक में होली के त्योहार पर किस तरह लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाये इस मामले पर चर्चा की। इस बैठक के बाद योगी सरकार ने नई गाइडलाइंस की घोषणा की। साथ ही होली के त्यौहार को मद्देनजर रखते हुए लोगों से अपील की है कि, 'वह कोरोना के बढ़ते संक्रमण से सचेत रहें और आपसी सतर्कता और सावधानी बरतें।'

क्या हैं नई गाइडलाइंस :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के अधिकारियों के साथ की उच्च स्तरीय बैठक के बाद कई ऐलान किए। इन ऐलानों के तहत मुख्यमंत्री योगी ने होली, पंचायत चुनाव और दूसरे राज्यों में कोरोना संक्रमण के बढ़ने की स्थिति के मद्देनजर रखते हुए विशेष सतर्कता और सावधानी बरतने की बात कही। साथ ही कई और आदेश भी उत्तर प्रदेश में जारी किए। इन निर्देशों के तहत -

स्कूल हुए बंद :

उत्तर प्रदेश में 24 से 31 मार्च तक आठवी कक्षा तक के सभी स्कूल बंद रखने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, 'कक्षा-1 से 8 तक के सभी परिषदीय और निजी विद्यालयों में दिनांक 24 से 31 मार्च, 2021 तक होली अवकाश रहेगा। हालांकि, बाकी के जिन शिक्षण संस्थानों में परीक्षाएं आयोजित नहीं हो रही हैं, वहां यह अवकाश 25 मार्च से 31 मार्च, 2021 तक रहेगा। इसके अलावा जिन शिक्षण संस्थानों में परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं, उन्हें पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतः पालन करते हुए सम्पन्न कराया जाए।

बिना अनुमति के नहीं होंगे कार्यक्रम :

उत्तर प्रदेश में किसी भी प्रकार का कोई सार्वजनिक कार्यक्रम और जुलूस बिना अनुमति लिए आयोजित नहीं किया जा सकेगा। हालांकि, सरकार की तरफ से त्योहार मानने को लेकर कोई रोक नहीं लगाई है, लेकिन सभी UP वासियों को जागरूक होने के लिए कहा है।

टेस्ट की व्यवस्था :

अधिकरियों को रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, एयरपोर्ट जैसे स्थानों पर इंफ्रारेड थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर और रैपिड एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाए।

तैनाती के निर्देश :

CM योगी आदित्यनाथ ने गांवों में ग्राम पंचायत स्तर और शहरों में वॉर्ड स्तर पर नोडल अधिकारी की तैनाती के निर्देश दिए हैं।

कोविड हॉस्पिटल की उपलब्धता :

योगी सरकार ने निर्देशों के तहत UP के हर जिले में एक-एक डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए है। इस मामले में CM योगी ने कहा कि, 'कोरोना टीकाकरण का काम पूरी प्रतिबद्धता के साथ किया जाए।'

हेल्थ डायरेक्टर जनरल का कहना :

उत्तर प्रदेश के हेल्थ डायरेक्टर जनरल जी.एस. नेगी ने कहा है कि, 'अन्य राज्यों में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए UP सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। अन्य राज्यों से एयरपोर्ट, बस स्टेशन और रेलवे स्टेशनों पर आने वाले यात्रियों की चेकिंग के लिए एक 24 घंटे काम करने वाला सिस्टम तैयार किया गया है। ताकि संदेहजनक यात्रियों को पहचाना जा सके। हम कोरोना टेस्टों की संख्या बढ़ाने पर फोकस कर रहे हैं ताकि लोगों की ट्रेसिंग करने में आसानी रहे।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co