इस दिन से खुलेंगे पंजाब में कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान

मार्च से बंद किए गए कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान को पंजाब में खोलने का विचार किया गया है। हालांकि, राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए आदेशों के अनुसार, इन्हे कई नियमों के साथ खोला जाएगा।
इस दिन से खुलेंगे पंजाब में कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान
College-universities and institutions Reopend in Punjab from November 16Social Media

पंजाब। देश में कोरोना से बने हालातों को मद्देनजर रखते हुए मार्च से ही सभी राज्यों में स्कूल के साथ कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान भी बंद कर दिए गए थे, परंतु मार्च से ही बंद किए गए कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान को अब पंजाब में खोलने को लेकर विचार किया गया है। हालांकि, राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए आदेशों के अनुसार, इन्हे कई नियमों के साथ खोला जाएगा।

16 नवंबर से खुलेंगे सभी संस्थान :

भारत में कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं और कोरोना का कहर जारी है। ऐसे हालातों के बीच भी अब जरूरतों को देखते हुए पंजाब सरकार ने कॉलेज-विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थानों को 16 नवंबर से खोलने का ऐलान किया है। इन्ही के साथ मेडिकल शिक्षा एवं रिसर्च और टेक्नोलॉजी से जुड़े संस्थानों को भी खोल दिया जाएगा। हालांकि, सरकार ने कंटेनमेंट जोन में स्थित संस्थानों को खोलने के लिए साफ़ मना कर दिया है।

फाइनल ईयर के छात्रों की क्लासेस :

बताते चलें, राज्य सरकार और केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मिलकर इस मामले पर फैसला लेते हुए कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिसके तहत मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च विभाग के अंतर्गत आने वाले विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के फाइनल ईयर के छात्रों की क्लासेस 9 नवंबर से ही शुरु कर दी जाएंगी। विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को खोलने के लिए गुरुवार को आदेश जारी कर दिए गए हैं।

कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन :

पंजाब की राज्य सरकार और केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देश के अनुसार, 16 नवंबर से खुलने वाले सभी शैक्षिक संस्थानों को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी किए गए कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करने को कहा गया है। बता दें, केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा शिक्षण संस्थान खोलने के लिए दिशा निर्देश 30 सितंबर को ही जारी कर दिए थे। इन निर्देशों के अनुसार, रिसर्चर, विज्ञान और तकनीकी के स्नातकोत्तर छात्रों की पढ़ाई में प्रयोगशाला और प्रैक्टिकल की जरुरत को देखते हुए इन छात्रों के लिए संस्थान खोलने की अनुमति दी गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co