राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव का निधन, कांग्रेस में शोक की लहर
राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव का निधन, कांग्रेस में शोक की लहरSocial Media

राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव का निधन, कांग्रेस में शोक की लहर

कांग्रेस सांसद व राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव नहीं रहे, उनके निधन की खबर समाने आने के बाद कांग्रेस के तमाम नेता उनके निधन पर शोक व्यक्त कर रहे हैं...

महाराष्‍ट्र, भारत। देश में जानलेवा वायरस कोरोना की दूसरी लहर से हालात बदत्तर है, कोरोना ने क़हर ढाया है और कोरोना के संकटकाल में आए दिन दुखद समाचार सुनने को मिल रहे हैं। इस बीच अब महाराष्‍ट्र के पुणे से यह खबर सामने आई है कि, कांग्रेस सांसद व राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव नहीं रहे।

कोरोना से उबरने के बाद राजीव सातव का निधन :

बताया गया है कि, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले राजीव सातव 22 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद उन्हें पुणे के जहांगीर अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। अस्पताल के सूत्रों का कहना है- कुछ दिन पहले ही वह कोविड-19 से उबरे थे। तबीयत बिगड़ने के बाद अस्पताल में राजीव सातव को वेंटीलेटर पर रखा गया था। राजीव सातव को बाद में एक नया वायरल संक्रमण हो गया था और उनकी हालत गंभीर थी।

राजीव सातव के निधन से कांग्रेस में शोक की लहर :

46 वर्षीय कांग्रेस सांसद राजीव सातव के निधन के बाद से कांग्रेस में शोक की लहर है और कांग्रेस के तमाम नेता उनके निधन पर शोक व्यक्त कर रहे हैं।

अपने दोस्त राजीव सातव के खोने का बहुत दुख :

राजीव सातव के निधन पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, "मुझे अपने दोस्त राजीव सातव के खोने का बहुत दुख है। वह विशाल क्षमता वाले नेता थे, जिन्होंने कांग्रेस के आदर्शों को असली रूप दिया, यह हम सभी के लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदना और प्यार।"

सुरजेवाला ने भी जताया दुख :

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, "निशब्द! आज एक ऐसा साथी खो दिया जिसने सार्वजनिक जीवन का पहला कदम युवा कांग्रेस में मेरे साथ रखा, आज तक साथ चले पर आज राजीव सातव की सादगी, बेबाक मुस्कराहट, जमीनी जुड़ाव, नेत्रत्व और पार्टी से निष्ठा और दोस्ती सदा याद आएंगी, अलविदा मेरे दोस्त! जहां रहो, चमकते रहो।"

सचिन पायलट ने ट्वीट कर कहा- राजीव सातव जी के असामयिक निधन के बारे में जानकर स्तब्ध और दुखी हूं। एक मूल्यवान सहयोगी जिन्होंने पार्टी और लोगों के लिए काम करने के लिए खुद को प्रतिबद्ध किया था। एक युवक जिसके पास देने के लिए बहुत कुछ था - बहुत जल्दी चला गया। उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co