'अग्निपथ योजना' के विरोध में कांग्रेस का सत्याग्रह, जंतर-मंतर पर जुटे कांग्रेस नेता
'अग्निपथ योजना' के विरोध में कांग्रेस का सत्याग्रहSocial Media

'अग्निपथ योजना' के विरोध में कांग्रेस का सत्याग्रह, जंतर-मंतर पर जुटे कांग्रेस नेता

अग्निपथ योजना को लेकर देश के कई राज्यों में जोरदार विरोध हो रहा है। इस योजना को लेकर हो रहे विरोध के बीच कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

दिल्ली, भारत। अग्निपथ योजना को लेकर देश के कई राज्यों में जोरदार विरोध हो रहा है। अग्निपथ योजना को लेकर हो रहे विरोध के बीच कांग्रेस ने भी केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस दिल्ली के जंतर-मंतर पर इस योजना के विरोध में रविवार को सत्याग्रह कर रही है, जिसमें तमाम बड़े नेता शामिल हुए हैं।

प्रियंका गांधी वाड्रा रही मौजूद:

बता दें कि, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा और पार्टी के अन्य नेताओं ने जंतर-मंतर में 'अग्निपथ' भर्ती योजना का विरोध किया। इसे देखते हुए जंतर मंतर पर पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों को तैनान किया गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) भी अन्य नेताओं के साथ विरोध जताने पहुंची हैं।

पार्टी के एक नेता ने कहा है कि, 'सत्याग्रह' का यह फैसला इसलिए लिया गया, क्योंकि 'अग्निपथ' योजना ने हमारे देश के युवाओं को आक्रोशित कर दिया है और वे सड़कों पर उतरकर विरोध प्रकट कर रहे हैं। हमारी जिम्मेदारी है कि, हम उनके साथ खड़े रहें।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कही यह बात:

अग्निपथ योजना पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि, "देश की सेवा करने के लिए पूरे जीवन भर सेना में भर्ती होना चाहते हैं। ये जो भी हो रहा है गलत हो रहा है। इस योजना को वापस लेना चाहिए।"

सचिन पायलट ने कही यह बात:

अग्निपथ योजना पर कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि, "कोविड के बहाने से आपने(सरकार) 2 साल से भर्तियां रोक रखी थी। 1.25 लाख भर्तियां केवल फौज में खाली है। आप सिर्फ भ्रमित कर लोगों का भविष्य खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। हम सत्याग्रह कर सरकार को यह योजना वापस लेने के लिए मजबूर करेंगे।"

आपको बता दें कि, अग्निपथ योजना के तहत भर्ती होने वाले अग्निवीरों के लिए गृह मंत्रालय ने बड़ा फैसला लेते हुए, अग्निवीरों को सीएपीएफ और असम राइफल्स में 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया गया है। इसमें भर्ती के लिए अग्निवीरों को निर्धारित अधिकतम प्रवेश आयु सीमा में तीन साल की छूट देने का फैसला किया है और अग्निपथ योजना के पहले बैच के लिए यह छूट 5 वर्ष होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co