फेस्टिव सीजन के चलते केंद्र ने कोरोना के नियमों को रखा 30 सितंबर तक जारी
फेस्टिव सीजन के चलते केंद्र ने कोरोना के नियमों को रखा 30 सितंबर तक जारीPriyanka Sahu -RE

फेस्टिव सीजन के चलते केंद्र ने कोरोना के नियमों को रखा 30 सितंबर तक जारी

अब फेस्टिव सीजन आ रहा है, ऐसे में इस साल के फेस्टिव सीजन को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने कोरोना संबंधित नियमों को आगे भी लागू रखने का फैसला किया है।

भारत। पूरे भारत में कोरोना का प्रकोप अब भी बढ़ रहा है। देश में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा करोड़ों में पहुंच चुका है। हालांकि, इतने ही लोग कोरोना की जंग जीत कर अपने घर भी लौटे हैं। वहीं, देश में जारी वैक्सीनेशन के बीच भी कोरोना से बचने के सबसे अच्छा उपाय सावधानी से घर में रहना ही है, जहां लोग घरों से बाहर निकलते हैं और भीड़ लगाते हैं। वहां कोरोना का खतरा बढ़ जाता है। वहीं, अब फेस्टिव सीजन आ रहा है, ऐसे में इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने कोरोना संबंधित नियमों को आगे भी लागू रखने का फैसला किया है।

नियमों को आगे भी रखा जाएगा लागू :

दरअसल, देश में त्योहारों का सीजन आने वाला है और इस सीजन में लोग त्योहारों में लिए खरीददारी करने जरूर घर से निकलते है। ऐसी में भारत की केंद्र सरकार ने एहतियातन तौर देश में कोरोना से जुड़े नियमों को अब आगे भी लागू रखने की घोषणा कर दी है। इस घोषणा के तहत अब इन नियमों का पालन लोगों को अगले महीने भी यानी 30 सितंबर तक करना होगा है। इस मामले में जानकारी देते हुए गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने शनिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह सुनिश्चित करने हेतु कहा है कि, 'कोई बड़ी सभा न हो और कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए ठोस कदम उठाए जाएं। कुल मिलाकर महामारी की स्थिति अब राष्ट्रीय स्तर पर काफी हद तक स्थिर प्रतीत होती है, लेकिन कुछ राज्यों में स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है।'

गृह सचिव का कहना :

गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने आगे कहा कि, 'देश के कुछ जिलों में सक्रिय मामलों की कुल संख्या और पॉजिटिविटी दर अभी भी चिंता का विषय बनी हुई है। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र भेजकर जानकारी दी गई है। संबंधित राज्य सरकार एवं केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन अपने जिले में उच्च सकारात्मकता दर के मद्देनजर सक्रिय रूप से रोकथाम के उपाय पर जोर दें। ताकि वायरस के संचरण के प्रसार को रोका जा सके।' इसके अलावा उन्होंने आगामी त्योहारों के दौरान बड़ी सभाओं से बचने के लिए उपयुक्त उपाय करने की सलाह दी और यदि आवश्यक हो तो ऐसी सभाओं को रोकने के लिए स्थानीय प्रतिबंध लगाएं।

गृह मंत्रालय का राज्यों से कहना :

गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि, 'पांच चरण वाली रणनीति जांच, पता लगाना, उपचार, टीकाकरण और कोविड से बचाव के नियमों पर ध्यान केंद्रित करें।' गौरतलब है कि, ऐसे माहौल के बीच विशेषज्ञ कोरोना की तीसरी लहर के सितंबर-अक्टूबर में आने की आशंका जता रहे है, जबकि नवंबर में पीक पर रहने की भी खबर है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co