महाराष्ट्र और दिल्ली बना कोरोना का गढ़, देश में 5 गुना रफ्तार से बढ़ा कोरोना का आंकड़ा
महाराष्ट्र और दिल्ली बने कोरोना का गढ़Syed Dabeer Hussain - RE

महाराष्ट्र और दिल्ली बना कोरोना का गढ़, देश में 5 गुना रफ्तार से बढ़ा कोरोना का आंकड़ा

भारत में एक बार फिर कोरोना के मामलों में बहुत तेजी से बढ़त देखने को मिली है। महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे राज्यों का नाम बड़े स्तर पर हैं। क्योंकि, यहां से हैरान कर देने वाले मामले सामने आये हैं।

राज एक्सप्रेस। भारत में में एक बार फिर कोरोना के मामलों में बहुत तेजी से बढ़त देखने को मिली है। कुछ राज्यों का नाम बड़े स्तर पर है। इस राज्यों में दर्ज की गई बढ़त का अंदाजा आप कुछ इस तरह लगा सकते हैं कि, जहां देश में पिछले दिनों कोरोना मामलों की संख्या 10 हजार पर पहुंच गई थी वहीं, इससे ज्यादा मामले इन दिनों सिर्फ महाराष्ट्र और दिल्ली से ही सामने आरहे हैं। वही, दूसरी तरफ दोनों राज्यों में कोरोना के नए Omicron वेरिएंट के मामलों में भी बढ़ने से हाहाकार मचना शुरू हो गया है। ऐसे में सभी राज्यों की सरकारें अपने-अपने स्तर पर सावधानियां बरत रही हैं। इसी बीच महाराष्ट्र और दिल्ली हैरान कर देने वाले मामले सामने आये हैं।

महाराष्ट्र और दिल्ली बने कोरोना का गढ़ :

दरअसल, महाराष्ट्र और दिल्ली से सामने आये कोरोना के मामलों को देख कर ऐसा लग रहा है जैसे देश में अब तीसरी लहर की दस्तक हो चुकी है। क्योंकि, गुरुवार को रात 8 बजे तक देशभर से कोरोना के नए 1 लाख 7 हजार 848 मामले सामने आए है। जबकि मात्र दिल्ली और महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा दर्ज की गई है। इस कड़ी में महाराष्ट्र से 36,265 और दिल्ली से 15,097 नए मामले सामने आये है। ये दोनों ऐसे राज्य हैं, जो इन दिनों कोरोना का गढ़ बने हुए हैं क्योंकि, देश भर से सामने आये कुल मामलों में आधे मरीज सिर्फ इन दोनों राज्यों में मिले हैं।

5 गुना रफ्तार से बढ़ा कोरोना का आंकड़ा :

बताते चलें, देश में एक बार फिर कोरोना से सक्रिय मरीजों की संख्या की रफ्तार तेजी से बढ़कर 81 दिन बाद 2,14,004 पर पहुंच गई है। जबकि, भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के नए मामले 90,928 सामने आए हैं। इन दिनों देश में रिकवरी दर 19,206 पर है और मौत का आंकड़ा 325 है। इसी बीच गुरुवार की रात 8 बजे तक देशभर में 29,675 मरीज ठीक हुए हैं, जबकि 290 की मौत हुई है। वर्तमान समय में पूरे देश भर में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 3 लाख 57 हजार 364 हो गई है। याद दिला दें, पिछले साल 1 दिसंबर (2021) को भारत में 9765 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले थे। जबकि, 31 दिसंबर को यह संख्या 23 हजार के आसपास थी, लेकिन 31 दिसंबर से आज तक मात्र 6 दिन में यह आंकड़ा लगभग 5 गुना रफ्तार पकड़ चुका है।

दिल्ली में 3 दिन में 3 गुना रफ्तार से बढ़े मामले :

दिल्ली में कोरोना के मामलों की रफ्तार मात्र तीन दिन में तीन गुना टेसी से बढ़ी है। क्योंकि यहां, 4 जनवरी को 5481 केस मिले थे, जबकि 5 जनवरी को यही केस बढ़कर 10,665 हो गए। वहीं, आज 6 जनवरी को कोरोना के केस की संख्या 15,097पर पहुंच गई हैं। जबकि मात्र आज के दिनभर में 6 कोरोना से संक्रमित मरीजों की जान गई है। देखा जाए तो, दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 15% हो गया है। उधर, दिल्ली में पुलिस और प्रशासन कोरोना नियमों के उल्लंघन को लेकर काफी अलर्ट है। इसी के चलते यहां नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। 31 दिसंबर की रात 11 बजे से सुबह 5 बजे के बीच यहां आईपीसी की धारा 188 के तहत 294 केस दर्ज किए गए हैं। जबकि 870 कोरोना चालान काटे गए।

मुंबई में दर्ज हुए रिकॉर्ड मामले :

गुरुवार को महाराष्ट्र के मात्र मुंबई की बात की जाये तो यहां से 20,181 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 4 मरीजों की मौत हुई और एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 79,260 पर पहुंच गई है। इसी बीच मात्र गुरुवार को मुंबई में 67 हजार लोगों का टेस्ट किया गया जिसमें से 20181 लोगों की पॉजिटिव पाए गए है। मुंबई में पॉजिटिविटी रेट 30% पर जा पंहुचा है। हैरान और परेशान करने वाली बात तो यह है कि, इन कुल मामलों में से 17154 (85%) मरीजों में कोई लक्षण नहीं दिखे हैं। कल ये आंकड़ा 90% था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co