सायबर सेल की गिरफ्त में आरोपी इंजीनियर
सायबर सेल की गिरफ्त में आरोपी इंजीनियर|Afsar Khan
क्राइम एक्सप्रेस

जबलपुर : दोस्ती न करने पर इंजीनियर ने किया युवती का चरित्र हनन

जबलपुर, मध्य प्रदेश : परेशान करने के लिए बनाई फर्जी फेसबुक व इंस्टाग्राम आईडी। सायबर सेल की सक्रियता से आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे।

Afsar Khan

जबलपुर, मध्य प्रदेश। महिलाओं के संबंध मे बढ़ते सायबर अपराधों पर संज्ञान लेते हुये अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मिलिंद कानस्कर द्वारा सायबर अपराधों के त्वरित निकाल के दिशा निर्देशों के पालन में पुलिस अधीक्षक सायबर अंकित शुक्ला के मार्गर्दशन पर निरीक्षक विपिन ताम्रकार के नेतृत्व मे सायबर सेल की टीम द्वारा कार्यवाही की गई, रीवा जिला की निवासी आवेदिका ने शिकायत में उल्लेख किया कि आवेदिका के फोटो एवं नाम का दुरूपयोग कर इंस्टाग्राम एवं फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर आवेदक को परेशान करने के उद्देश्य से आवेदिका के दोस्तों एवं परिचितों को आऱोपी ने इंस्टाग्राम व फेसबुक के माध्यम से भेजे थे, अभद्र मैसेज किया जाता था, आवेदिका के अश्लील फोटो वायरल किए थे।

आरोपी ने कबूला जुर्म :

आवेदिका की शिकायत को गंभीरता से लेते हुये धारा 66 सी, 67 आईटी एक्ट 469 भादवि का प्रकरण दर्ज किया, जाकर फर्जी इंस्टाग्राम आईडी व फेसबुक आईडी बंद कराई गई । प्रकरण की तकनीकी विवेचना एवं संकलित साक्ष्यों के आधार पर पतारसी संदेही संजय द्विवेदी पिता कमलेश्वर द्विवेदी निवासी ग्राम पन्नी मऊगंज जिला रीवा का होना पाया गया, जिसे प्रकरण के संबंध में पूछताछ की गई। जिसने प्रकरण में स्वयं की पूर्णरूपेण संलिप्तता स्वीकार किया, जिस गिरफ्तार किया गया।

कई बार बदला सिम व मोबाइल :

संजय ने पूछताछ में बताया कि वह पेशे से इंजीनियर है, आवेदिका को पहले से जानता है। आवेदिका द्वारा दोस्ती करने से मना करने के कारण आवेदिका को परेशान करने के उद्देश्य से आवेदिका के अश्लील फोटो व अभद्र मैसेज, आवेदिका के नाम व फोटो का उपयोग कर फर्जी इंस्टाग्राम व फेसबुक आईडी बनाकर पोस्ट किया था। आरोपी द्वारा आवेदिका के चरित्र हनन करने के उद्देश्य से अश्लील फोटो को वायरल करने लगा था। आरोपी घटना कारित करने के बाद से ही था, फरार इस दौरान आरोपी ने कई सिम कार्ड व मोबाईल बदली, लेकिन सायबर सेल की सक्रियता ने आरोपी को सलाखों के पीछे पहुंच गया। प्रकरण में निरीक्षक विपिन ताम्रकार, उपनिरीक्षक रोशनी नर्रे, आरक्षक आशीष, महिला आरक्षक अनुपमा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

कप्तान ने नागरिकों को दी समझाईश :

पुलिस अधीक्षक सायबर अंकित शुक्ला ने नागरिकों से अपील की है कि है कि सोशल मीडिया ऐप जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम पर अपनी फोटो पब्लिक न करें, प्रायवेसी सेटिंग्स से किसी पोस्ट या कंटेन्ट को कस्टमाइज करें जैसे ओनली मी, ओनली फ्रेंड्स। किसी से भी अपनी पर्सनल फोटो शेयर न करें, अनजान लोगो की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार न करें । अपनी निजी जानकारी यथा संभव हो शेयर न करें। किसी परिचित द्वारा मेसेंजर पर पैसे मांगे जाते है तो, सबसे पहले उससे फोन पर संपर्क करें। यदि कोई आपकी फोटो व नाम का उपयोग कर रहा है तो आप स्वयं सोशल मीडिया साईट्स पर जाकर रिर्पोट कर सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co