नकली खोपरा बूरा कंपनी का पर्दाफाश,तीन गिरफ्तार
नकली खोपरा बूरा कंपनी का पर्दाफाश,तीन गिरफ्तार|Raj Express
क्राइम एक्सप्रेस

इंदौर : नकली खोपरा बूरा कंपनी का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार

इंदौर, मध्य प्रदेश : क्राइम ब्रांच ने नकली खोपरा बूरा कम्पनी संचालित करने वाले तीन आरोपियों को बंदी बनाया है। इनके पास से 81 हजार का खोपरा बूरा भी बरामद हुआ है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

हाइलाइट्स :

  • नकली खोपरा बूरा कम्पनी सन्चालित करने वाले 03 आरोपी क्राइम ब्रान्च व थाना सेंट्रल कोतवाली की संयुक्त कार्यवाही में गिरफ्तार।

  • तिरुमाला एग्रोप्रोसेसिंग कर्नाटका की कम्पनी के नाम को कॉपी कर, अवैध तरीक़े से उत्पादन तथा पैकिंग कर खोपरा बूरा कम दामों में बेच मूल कम्पनी को आर्थिक क्षति पहुंचा रहे थे आरोपी।

  • शिकायत प्राप्त होने पर की गई कार्यवाही, आरोपियों के पास नहीं मिले कोई भी वैध दस्तावेज।

  • कॉपीराइट एक्ट के तहत मुकदमा किया दर्ज, गोदाम भी किया सील।

इंदौर, मध्य प्रदेश। क्राइम ब्रांच ने नकली खोपरा बूरा कम्पनी संचालित करने वाले तीन आरोपियों को बंदी बनाया है। इनके पास से 81 हजार का खोपरा बूरा भी बरामद हुआ है। ये तिरुमाला एग्रोप्रोसेसिंग कर्नाटक की कम्पनी के नाम को कॉपी कर, अवैध तरीक़े से उत्पादन तथा पैकिंग कर खोपरा बूरा कम दामों में बेचकर मूल कम्पनी को आर्थिक नुकसान पहुंच रहे थे। कंपनी की ही शिकायत के बाद ये कार्रवाई हुई है। क्राइम ब्रांच टीम को सूचना मिली थी कि कुछ व्यक्ति सियागंज क्षेत्र में तिरुमला एग्रोप्रोसेसिंग ,मेन्युफेक्चरिंग आफ डेसीकेटेड कोकोनट पावडर एंड कोकोनट प्रोडक्टस पता गोडादेहल्ली हलकुरको तिपतुर ,कर्नाटक नामक कम्पनी के नाम की कॉपी कर तथा खाद्य अपमिश्रण कर, नकली खोपरा बूरा का व्यवसाय कर रहे हैं जिसकी शिकायत उल्लेखित कम्पनी की ओर से इंदौर के ट्रेडर्स ललित अग्रवाल द्वारा दर्ज कराई गई थी।

सूचना और शिकायत प्राप्त होने पर क्राइम ब्रांच की टीम ने सेंट्रल कोतवाली पुलिस के साथ मिलकर महादेव ट्रेडिंग कम्पनी 7-8/2 विनोवा पंथ वेयर हाउस रोड सियागंज इंदौर के गोदाम पर छापामार कार्यवाही की जहाँ तफ्तीश के दौरान पाया कि तिरुमला एग्रोप्रोसेसिंग तिपतुर कर्नाटक की कम्पनी के नाम को कॉपी कर आरोपीगण गोदाम में खोपरा बूरा की पैकिंग कर रहे थे । जो तिरुमाला एग्रोप्रोसेसिंग के नाम से बोरियां पैक कर कम कीमत में बाजार में उपलब्ध करा के मूल कम्पनी को आर्थिक क्षति पहुंचा रहे थे साथ ही उस कम्पनी के नाम का दुरुपयोग कर कॉपीराइट एक्ट का उल्लंघन कर रहे थे।

कितना माल हुआ बरामद :

गोदाम में से 270 पैकेट प्रत्येक की कीमत 300/- इस प्रकार करीबन 81000/- रुपये कीमत के खोपरा बूरा के बरामद हुए जिस पर तिरुमला शुद्ध खोपरा बूरा लिखा गया था उपरोक्त के सम्बन्ध में एफएसएसएआई लायसेंस भी आरोपियों के पास नहीं था ना किसी प्रकार की कोई फ्रेंचाइज़ कम्पनी इन्होंने ली थी किन्तु प्रतिष्ठित कम्पनी तिरुमला खोपरा बूरा तिपतुर कर्नाटक के नाम की कॉपी कर स्वयं खोपरा बूरा के पैकेट की पैकिंग कर आरोपीगण व्यवसाय कर रहे थे जिसके चलते मौके से आरोपी संदीप पिता संतोष कुमार कालरा, पाश्र्वनाथ नगर, संतोष पिता लाखाराम कालरा, निवासी सदर एवं कमल पिता संतोष, निवासी सदर को हिरासत में लिया गया है। कम्पनी के सम्बंध में कोई भी वैध दस्तावेज ना होने से गोदाम सील कर आरोपियों के विरुद्ध कॉपीराइट एक्ट 1957 की धारा 51, 63 के तहत थाना सेंट्रल कोतवाली में कार्रवाई की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co