टीकमगढ़ केस
टीकमगढ़ केस|Syed Dabeer-RE
क्राइम एक्सप्रेस

टीकमगढ़ केस: 5 के शव फंदे से लटके मिले मामले में सभी आरोपी गिरफ्त में

मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले के खरगापुर में एकसाथ 5 की आत्महत्या के मामले में पुलिस को मिले सुसाइड नोट, सभी आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

खरगापुर, टीकमगढ़। मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले के खरगापुर में दिल दहला देने वाली की घटना का खुलासा हुआ। कोरोना संकटकाल के बीच खरगापुर में एक ही परिवार के पांच सदस्यों के शव मिलने के मामले में हुआ खुलासा, जमीन बेचने पर मजबूर किये जाने पर मासूम बच्चे सहित पूरे परिवार को उठाना पड़ा ये कदम।

पुलिस को मिले दो सुसाइड नोट :

बता दें कि इस मामले की जांच होने पर पता चला कि ये मामला जमीन को लेकर है। वहीं एक साथ पांचो लोगों के शव घर में फांसी के फंदे पर लटके मिले थे। इस मामले में मर्ग कायम कर जांच में लिया गया था, मौके पर पुलिस को दो सुसाइड नोट मिले। मिली जानकारी के मुताबिक सुसाइड नोट के आधार पर दावा किया है कि आरोपितों ने सोनी परिवार को जमीन बेचने पर मजबूर किया और पैसे में हेराफेरी की थी।

पुलिस ने टीकगमढ़ की खरगापुर तहसील में सोनी परिवार के 5 सदस्यों की सामूहिक आत्महत्या के मामले में पुलिस ने कुछ रिश्तेदारों और जमीन खरीदने वाले सराफा व्यवसायी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जमीन के मुख्य खरीदार रामेश्वर जड़िया के अलावा प्रेम लाल साहू , विजय सोनी , अरविंद सोनी, रूपा सोनी, अजय सोनी, कु. पूजा सोनी, राजेंद्र सोनी एवं कौशल किशोर सोनी द्वारा आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मुकदमा दर्ज किया है।

जानिए क्या था पूरा मामला :

बता दें कि टीकमगढ़ के जिले खरगापुर मे धर्मदास सोनी अपने परिवार के साथ रहते थे। गणेश चतुर्थी की रात परिवार के पांच सदस्यों के शव घर के अंदर फंदे से लटके मिलने से फैली थी सनसनी। बता दें कि रविवार सुबह जब दूध देने वाला घर पर आया और आवाज देने पर भी दरवाजा नहीं खुला तो उसने पुलिस को सूचना दी। घर के अंदर फंदे से लटके मिले शव में मरने वालों में धर्मदास सोनी, इनकी पत्नी पूजा सोनी, पुत्र मनोहर सोनी, पुत्रवधु सोनम सोनी, पोता सानिध्य सोनी था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co