कोरोना काल में अब 'निसर्ग' तूफान के विकराल रूप से मच सकती है तबाही
कोरोना काल में अब 'निसर्ग' तूफान के विकराल रूप से मच सकती है तबाही|Priyanka Sahu -RE
भारत

कोरोना काल में अब 'निसर्ग' तूफान के विकराल रूप से मच सकती है तबाही

कोरोना महामारी के कहर के बीच अब मौसम विभाग ने अरब सागर में उठ रहे तूफान 'निसर्ग' को लेकर चेतावनी जारी करते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। इस चक्रवाती तूफान से इन राज्‍यों में खतरनाक स्थिति का अंदेशा है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। वर्तमान में कोरोना वायरस एक काल बनकर सभी देशों में छाया हुआ है। इस आपदा के बीच प्रकृति भी अपना क्रोध बरपा रही है, पहले पश्चिम बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान 'अम्फान' के बाद अब निसर्ग नाम का भयंकर तूफान का खतरा मंडरा रहा है।

निसर्ग ले सकता है विकराल रूप :

कोरोना महामारी से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्‍य महाराष्‍ट्र के अलावा गुजरात, दमन और दीव में अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' से ज्‍यादा खतरनाक स्थिति में रहने का अंदेशा है एवं अगले 24 घंटे में भारी तबाही मच सकती हैं। इसके चलते मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि, निसर्ग विकराल रूप ले सकता है, रेड अलर्ट जारी किया गया है।

चक्रवात के हालात पर PM ने की चर्चा :

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर ये बताया कि, भारत के पश्चिमी तट पर चक्रवात के हालात पर मैंने चर्चा की है। साथ ही उन्‍होंने ट्वीट साझा करते हुए लिखा, मैं सभी लोगों की कुशलता के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। मैं लोगों से अपील करता हूं कि जितना संभव हो सावधानियां बरतें, साथ ही सुरक्षात्मक उपाय करें।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, अरब सागर में डिप्रेशन तीव्र होकर एक गंभीर चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' में परिवर्तित होने वाला है और तीन जून को रायगढ़ जिले में हरिहरेश्वर और दमन के बीच उत्तर महाराष्ट्र और गुजरात तटों को पार करेगा। IMD ने आगाह किया कि, चक्रवाती तूफान निसर्ग मुंबई सहित महाराष्ट्र के तटीय जिलों को गुजरात और अन्य पड़ोसी राज्यों से अधिक प्रभावित करेगा।

NDRF ने राज्‍यों में टीमें की तैनात :

  • गुजरात में पहले ही 13 टीमें तैनात कर दी है, जिनमें से दो टीमों को रिजर्व रखा गया है।

  • महाराष्ट्र में 16 टीमें तैनात की गई हैं, जिनमें से 7 टीमों को रिजर्व रखा गया है।

  • दमन, दीव, दादरा एवं नगर हवेली में एक-एक टीम तैनात की गई है।

इसके अलावा एनडीआरएफ निचले तटीय इलाकों से लोगों को खाली कराने में राज्य सरकारों की मदद कर रहा है, क्‍योंकि यहां दक्षिण तटीय महाराष्ट्र में 2 से 4 जून, उत्तरी तट पर 2 से 3 जून और गुजरात, दमन-दीव, दादर और नगर हवेली में 3-5 जून तक भारी बारिश होने का अनुमान है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co