कोरोना वैक्सीन पर DCGI की बड़ी खुशखबरी- कोविशील्ड व कोवैक्सीन पर लगाई मुहर
कोरोना वैक्सीन पर DCGI की बड़ी खुशखबरी- कोविशील्ड व कोवैक्सीन पर लगाई मुहरSyed Dabeer Hussain - RE

कोरोना वैक्सीन पर DCGI की बड़ी खुशखबरी- कोविशील्ड व कोवैक्सीन पर लगाई मुहर

कोरोना वैक्सीन पर आज रविवार को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने बड़ा ऐलान कर बड़ी खुशखबरी दी है। दरअसल, कोविशील्ड और कोवैक्सीन को आज आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है।

भारत। जब से इस पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ा है, तब से ही दुनियाभर के अनेक देश कोरोना की दवाई और वैक्सीन तैयार करने में लगे हुए हैं और अब नए साल पर भारतवासियों को भी कोरोना की वैक्सीन की बड़ी खुशखबरी मिल गई है। आज 3 जनवरी को कोरोना वैक्सीन पर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने बड़ा ऐलान किया है, भारत को एक नहीं बल्कि दो-दो कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिली हैं।

कोवैक्सीन और कोविशील्ड पर DCGI की मुहर :

जी हां, आज रविवार को कोरोना वैक्सीन पर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्मित स्वदेशी वैक्सीन 'कोवैक्सीन' (Covaxin) और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित 'कोविशील्ड' (Covishield) कोरोना वैक्सीन को आपातकाल इस्तेमाल की अंतिम मुहर लगा दी है। DCGI द्वारा अंतिम मंजूरी मिलने के बाद अब ये वैक्सीन देश में आम लोगों को लगाई जा सकेगी। हालांकि, इससे पहले SEC ने 1 जनवरी को कोविशील्ड और 2 जनवरी कोवैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति देने की सिफारिश DCGI से की थी और आज यह घड़ी आ ही गई जब DCGI ने इस पर मुहर लगा बड़ी खुशखबरी दी।

दोनों ही वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं और इसका इस्तेमाल इमरजेंसी की स्थिति में किया जा सकेगा। दोनों ही वैक्सीन की दो-दो डोज इंजेक्शन के रूप में दी जाएंगी। इन दोनों वैक्सीन को 2 से 8 डिग्री के तापमान में सुरक्षित रखा जा सकेगा।

DCGI के निदेशक वीजी सोमानी

भारत में तैयार हो चुकीं 4 वैक्सीन :

बताते चलें, भारत में अब तक 4 फार्मा कंपनियों द्वारा कोरोना की वैक्सीन तैयार करने का दावा किया गया है। जिसमें से 2 कंपनियों द्वारा निर्मित वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है।

बता दें कि, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया जब किसी दवा, ड्रग, वैक्सीन को अंतिम अनुमति देता है, तभी इन दवाओं, वैक्सीन का सार्वजनिक इस्तेमाल हो सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co