AAP पार्टी ने रखा उपवास, CM केजरीवाल बोले-किसान संकट में तो देश खुशहाल कैसे
AAP पार्टी ने रखा उपवास, CM केजरीवाल बोले-किसान संकट में तो देश खुशहाल कैसेTwitter

AAP पार्टी ने रखा उपवास, CM केजरीवाल बोले-किसान संकट में तो देश खुशहाल कैसे

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत आम आदमी पार्टी (AAP) के कई नेताओं ने आज किसानों के समर्थन में उपवास रखा। उपवास के दौरान CM केजरीवाल ने सभा को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं...

दिल्ली, भारत। केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है और इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार किसानों के आंदोलन को लेकर सक्रियता दिखा रहे हैं। आज अन्नदाताओं के समर्थन में आम आदमी पार्टी (AAP) के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं समेत दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपवास रखा है।

आज पूरी आम आदमी पार्टी उपवास पर बैठी :

दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल ने उपवास के दौरान सभा को संबोधित करते हुए कहा- किसानों का आंदोलन पवित्र है, ये आंदोलन पूरी तरह से अहिंसा पर चल रहा है, लेकिन किसानों को बदनाम करने की साज़िश की जा रही है। पिछले हफ्ते मैं भी किसानों के पास जाना चाह रहा था, लेकिन इन्होंने मेरे दरवाजे बंद कर दिए मुझे जाने नहीं दिया, लेकिन हमें क्या फर्क पड़ता है हमने घर पर बैठकर ही किसानों के आंदोलन की सफलता के लिए प्रार्थना कर ली। आज पूरी आम आदमी पार्टी उपवास पर बैठी है।

दुख होता है जब किसानों को बदनाम करने के लिए कहा जाता है कि, किसान आतंकवादी हैं, देशद्रोही हैं, किसान टुकड़े-टुकड़े गैंग और चीन-पाकिस्तान के एजेंट हैं। बता दूं इन्हीं किसानों के भाई-बेटे चीन और पाकिस्तान के बॉर्डर पर बैठकर देश की सुरक्षा कर रहे हैं।

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल

किसानों को देशद्रोही कह कर गंदी राजनीती करना बंद करो :

CM केजरीवाल ने ये भी कहा कि, "किसानों को देशद्रोही कह कर गंदी राजनीती करना बंद करो। किसी भी देश की नींव किसान और जवान होते हैं अगर देश के किसान और जवान संकट में हो तो देश कैसे खुशहाल हो सकता है? आज हमारे देश का किसान संकट में है, जिस किसान को खेतों में होना चाहिए, वो इतनी ठंड में धरने पर बैठा हुआ है, लेकिन मुझे इस बात की खुशी है कि आज पूरा देश किसानों के साथ खड़ा है। देश भर में फौजी किसान के साथ खड़े हैं, खिलाड़ी किसान के साथ खड़े हैं, बॉलीवुड की हस्तियां किसानों के साथ खड़ी हैं।''

आगे उन्‍होंने कहा, ''अभी तक जमाखोरी करना कानून में अपराध और शास्त्रों में भी पाप माना जाता था, इन्होंने कानून बनाकर इसी जमाखोरी को वैध बना दिया।"

किसानों ने पानी पीकर और फल खाकर तोड़ा उपवास :

बता दें कि, दिल्ली के सिंघु बॉर्डर से लेकर यूपी-दिल्ली सीमा के गाजीपुर तक किसान सुबह 8 से शाम 5 बजे तक उपवास पर बैठे थे। हालांकि, अब कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध कर रहे किसानों ने पानी पीकर और फल खाकर अपना एक दिन का उपवास तोड़ा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co