दिल्ली सरकार ने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया
दिल्ली सरकार ने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया|Kratik sahu-RE
भारत

दिल्ली सरकार ने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने एक विज्ञापन में सिक्किम को एक अलग देश बताया दिया है, ये विज्ञापन सिविल डिफेंस के सदस्यों की भर्ती के लिए अख़बारों में प्रकाशित किया गया था।

Kratik Sahu

राजएक्सप्रेस। पहले ही कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रही दिल्ली सरकार पर अब एक नई मुसीबत आ खड़ी है। दिल्ली सरकार की ओर से सिविल डिफेंस भर्ती के लिए अख़बारों में जारी विज्ञापन में सिक्किम को भूटान और नेपाल के साथ एक अलग देश बता दिया गया है। इस विज्ञापन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो भी छपी हुई है। इस विज्ञापन को लेकर अब केजरीवाल सरकार पर कई सवाल उठने लगे हैं।

दिल्ली सरकार ने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया
दिल्ली सरकार ने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया Social Media

दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा अखबारों में सिविल डिफेंस के सदस्यों की भर्ती के लिए अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कराया गया था। इस विज्ञापन में आवेदन के लिए पात्रता के कॉलम में लिखा गया कि "भारत का नागरिक हो या भूटान नेपाल, या सिक्किम की प्रजा हो तथा दिल्ली का निवासी हो"।

कोरोना वायरस का दिल्ली में संक्रमण और इससे हुई मौतों के मुद्दे पर विपक्ष पहले ही केजरीवाल की सरकार पर निशाना साधे हुए था। अब इस विज्ञापन के बाद विपक्ष को केजरीवाल पर ऊँगली उठाने का एक और मौका मिल गया है।

आपको बता दें कि साल 1975 में भारत का अंग बना सिक्किम, उत्तराखंड, झारखंड और छत्तीसगढ़ के गठन से भी पहले का राज्य है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co