ITI के एंट्रेंस एग्जाम कैंसिल, 10वीं के आधार पर होगा एडमिशन
ITI के एंट्रेंस एग्जाम कैंसिल, 10वीं के आधार पर होगा एडमिशनSocial Media

ITI के एंट्रेंस एग्जाम कैंसिल, 10वीं के आधार पर होगा एडमिशन

पिछले साल से देश के हालात कोरोना के चलते काफी गंभीर हैं।जिसके चलते सभी परीक्षाएं तक रद्द कर दी गईं।ऐसे में अब औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) के एंट्रेंस एग्जाम को भी कैंसिल करने का फैसला किया गया है

राज एक्सप्रेस। देश में कोरोना वायरस जैसी जानलेवा महामारी की एंट्री के बाद से देश में कई क्षेत्रों में कई बदलाव आये हैं। ऐसे में विद्यार्थियों की पढ़ाई पर तो इसका काफी प्रभाव पड़ा है। इन बदलावों के तहत पिछले और इस साल विद्यार्थयों को बिना परीक्षा के ही पास किया गया है। छात्र इन अंको के आधार पर आगे की पढ़ाई के लिए एंट्रेंस एग्जाम देते हैं। ऐसे में अब औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) के एंट्रेंस एग्जाम को भी कैंसिल करने का फैसला किया गया है।

नहीं होंगे ITI के एंट्रेंस एग्जाम :

दरअसल, पिछले साल से ही देश के हालत कोरोना के चलते काफी गंभीर हैं। जिसके चलते सभी परीक्षाएं तक रद्द कर दी गईं। क्योंकि, ऐसे में एग्जाम दिलाना छात्रों की जान कहते में डालने के बराबर है। इसलिए ही दिल्ली के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) में इस बार एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम को कैंसिल करते हुए छात्रों का एडमिशन 10वीं में प्राप्त माक्स के आधार पर करने का फैसला लिया गया है। सरल शब्दों में समझें तो, इस साल दिल्ली ITI में एडमिशन के लिए 10वीं के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी और छात्रों को इसी के आधार पर एडमिशन मिलेगा।

एडमिशन की शुरुआत :

बताते चलें, दिल्ली के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) में एडमिशन की शुरुआत 15 जुलाई से ऑनलाइन की जाएगी। इसके अलावा सभी छात्रों की क्लासेस इस साल भी पिछली साल की तरह ऑनलाइन ही ली जाएंगी। खबरों की मानें तो, नए सत्र के लिए चार ITI में तीन नए कोर्सेज भी शुरु होने जा रहे हैं। दिल्ली प्रशिक्षण एवं तकनीकी शिक्षण संस्थान के अंतर्गत दिल्ली में 19 औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) विद्यार्थियों को विभिन्न कोर्सेज में प्रशिक्षित करते हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार :

अधिकारियों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, 'बीते साल से कोरोना महामारी के शिक्षण संस्थान बंद हैं। ऐसे में प्रवेश परीक्षा के लिए विद्यार्थियों को बुलाना संभव नहीं है। लिहाजा इस बार एडमिशन प्रवेश परीक्षा के आधार पर नहीं किए जाएंगे। अधिकतर कोर्सेज में दाखिले दसवीं के अंकों के आधार पर तैयार मेरिट से होंगे।'

क्लासेस को लेकर दी जानकारी :

क्लासेस को लेकर अधिकारियों का कहना है कि, 'बीते साल महामारी की स्थिति नियंत्रण में आने पर विद्यार्थियों को कुछ दिन के लिए परिसर में बुलाया गया था। दरअसल यहां पढ़ाए जाने वाले कई कोर्सेज में प्रैक्टिकल का इनपुट ज्यादा है। उम्मीद की जा रही है कि इस बार भी एक बार फिर प्रैक्टिकल संबंधित हिस्से के लिए विद्यार्थियों को बुलाया जा सकता है। कुल 19 आईटीआई में लगभग 10 से अधिक सीटें हैं। विभिन्न औद्योगिक इकाईयों के साथ करार होने के कारण विद्यार्थियों को रोजगार केबेहतर अवसर उपलब्ध होते हैं। विद्यार्थियों को प्रशिक्षण केलिए विभिन्न इंडस्ट्रीज में भेजा जाता है। जिससे कि उन्हें फील्ड में काम करने का अनुभव मिल सके।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co