जंतर-मंतर पहुंची के कविता
जंतर-मंतर पहुंची के कविताSocial Media

दिल्ली: जंतर-मंतर पहुंची के कविता, महिला आरक्षण बिल की मांग को लेकर किया धरना-प्रदर्शन

टीआरएस नेता के कविता से शराब घोटाले में कल ईडी पूछताछ करेगी और आज वो जंतर मंतर में शक्ति प्रदर्शन के लिए पहुंच चुकी हैं। जहां उन्होंने एक दिवसीय भूख हड़ताल की।

दिल्ली, भारत। टीआरएस नेता के कविता से शराब घोटाले में कल ईडी पूछताछ करेगी और आज वो जंतर मंतर में शक्ति प्रदर्शन के लिए पहुंच चुकी हैं। उन्होंने इस दौरान संसद के मौजूदा बजट सत्र में महिला आरक्षण विधेयक पेश करने की मांग को लेकर जंतर-मंतर में एक दिवसीय भूख हड़ताल की। कविता के धरने में 12 विपक्षी दलों के नेता शामिल होंगे।

बता दें कि, भारत राष्ट्र समिति MLC और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता ने संसद के मौजूदा बजट सत्र में महिला आरक्षण विधेयक पेश करने की मांग को लेकर जंतर-मंतर में एक दिवसीय भूख हड़ताल की। इस धरने को महिला आरक्षण के बहाने मोदी सरकार के खिलाफ विपक्षी एकजुटता की बीआरएस की कवायद के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने धरना देने की परमिशन नहीं दी थी। इस पर कविता ने कहा था- 'परमिशन पहले दे दी गई थी। अब अचानक इसे रद्द कैसे किया जा सकता है। मैं इस बारे में पुलिस से बात करूंगी।'

BRS पार्टी MLC के. कविता ने कही यह बात:

BRS पार्टी MLC के. कविता ने इस दौरान कहा कि, "जिस तरह से पूरी दुनिया का विकास हो रहा है अगर उसी तेजी से हिंदुस्तान का भी विकास होना है, तो महिलाओं को राजनीतिक क्षेत्र में भी भागीदारी मिलनी चाहिए और इस क्षेत्र में भागीदारी मिलने के लिए महिला आक्षरण बिल को लाना बहुत जरूरी है। ये बिल 27 साल से लंबित है।"

उन्होंने कहा कि, "मैं आपसे वादा करती हूं कि, जब तक ये बिल नहीं आएगा तब तक हम ये पथ नहीं छोड़ेंगे आंदोलन करते रहेंगे, क्योंकि इस बिल से हिंदुस्तान का भला हो सकता है।"

इस दौरान कविता ने कहा कि, पिछले 27 सालों से महिला आरक्षण बिल के लिए संघर्ष चल रहा है। कितनी भी सरकारें बदलीं, उसे मंजूरी नहीं मिली। लोकसभा और विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 33% आरक्षण होना चाहिए। हम इस विधेयक के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। भाजपा ने 2014 और 2019 के चुनाव में महिला आरक्षण बिल का वादा किया था, लेकिन अब इस पर बात नहीं कर रही है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co