33  सांसदों को किया गया निलंबित
33 सांसदों को किया गया निलंबितRE

लोकसभा में कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी समेत 33 सांसदों को किया गया निलंबित

संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्षी पार्टियों के सांसदों की ओर से आज भी हंगामा देखने को मिला है, जिसके बाद सदन में हंगामा करने वाले 33 और सांसदों को निलंबित कर दिया गया है।

हाइलाइट्स-

  • संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्षी पार्टियों के सांसदों की ओर से आज भी हंगामा देखने को मिला।

  • लोकसभा में कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी समेत 31 सांसदों को किया गया निलंबित।

दिल्ली, भारत। संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्षी पार्टियों के सांसदों की ओर से आज भी हंगामा देखने को मिला है, जिसके बाद सदन में हंगामा करने वाले 33 और सांसदों को निलंबित कर दिया गया है। इससे पहले बीते दिन शुक्रवार को 13 सांसदों को निलंबित किया गया था। निलंबित सांसदों में कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी शामिल हैं। इसके साथ-साथ कांग्रेस और टीएमसी समेत कई विरोधी पार्टियों के सांसद शामिल हैं। दयानिधि मारन और सौगत रॉय को भी निलंबित कर दिया गया है। आज निलंबित किए गए कई सांसदों के नाम भी सामने आ चुके हैं।

बता दें कि, सत्र शुरू होने के बाद विपक्षी सांसद संसद की सुरक्षा में सेंधमारी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इसमें कई सांसद ऐसे थे जो तख्तियां लेकर विरोध करने पहुंचे थे। इन सभी सांसदों को सदन की शेष अवधि के लिए निलंबित किया गया है। वहीं, लोकसभा सांसद अब्दुल खालिक, विजय वसंत और के जयाकुमार के निलंबन का मामला विशेषाधिकार समिति को भेजा गया है।

निलंबित किए गए सांसदों में ये लोग हैं शामिल:

बताया जा रहा है कि, 30 सांसदों को पूरे सत्र के लिए निलंबित किया गया है, जबकि तीन को विशेषाधिकार समिति की रिपोर्ट लंबित रहने तक निलंबित कर दिया गया है। इनमें के. जयकुमार, विजय वसंत और अब्दुल खालिक शामिल हैं।

निलंबित किए गए सांसदों में ये लोग हैं शामिल
निलंबित किए गए सांसदों में ये लोग हैं शामिल

केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने कही यह बात:

लोकसभा से कई विपक्षी सांसदों के निलंबन पर केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने कहा कि, "विपक्ष ने आज अभद्र व्यवहार किया। विपक्ष असुरक्षित महसूस कर रहा है क्योंकि उनके पास पीएम मोदी की सरकार के खिलाफ कोई एजेंडा या मुद्दा नहीं है और वे सदन को चलने नहीं दे रहे हैं। इसलिए स्पीकर ने उन्हें निलंबित कर दिया है और हमने इसका समर्थन किया है।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co