अब सड़कों पर AI कैमरे से होगी यातायात के नियमों की निगरानी
अब सड़कों पर AI कैमरे से होगी यातायात के नियमों की निगरानीRaj Express

अब सड़कों पर AI कैमरे से होगी यातायात के नियमों की निगरानी और तुरंत कटेगा चालान

अब तक आपने देखा होगा पुलिस आपका चालान काटती आ रही है, या CCTV से नजर रख कर चालान आपके घर आता होगा, लेकिन अब से AI आधारित कैमरे से आपका चालान तुरंत कटेगा।

हाईलाइट्स :

  • AI कैमरे से होगी यातायात के नियमों की निगरानी

  • ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालो को मिलेगा ऑटोमैटिक चालान

  • सड़कों पर पुलिस नहीं AI कैमरे से कटेगा चालान

दिल्ली, भारत। आज भारत में शायद ही कोई ऐसा हो जिसको एक बार भी पुलिस ने यातायात नियमों की अनदेखी करने के चलते न पकड़ा हो और उसका चालान ना कटा हो। हालांकि, अब तक आपने देखा होगा पुलिस आपका चालान काटती आ रही है, या CCTV से नजर रख कर चालान आपके घर आता होगा, लेकिन अब से AI आधारित कैमरे से आपका चालान तुरंत कटेगा।

AI आधारित कैमरे से होगी निगरानी :

जी हां, देश की राजधानी दिल्ली में अब AI कैमरे से यातायात के नियमों की निगरानी करने की शुरुआत की गई है। जबकि, यह सिस्टम देश के अन्य शहरों जैसे मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई में पहले से ही सक्रिय हैं। दिल्ली परिवहन अवसंरचना निगम (DTIDC) ने राजधानी में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) आधारित ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर कैमरा लगाने की योजना बनाई है। बता दें, दिल्ली में तेजी से बढ़ते सड़क हादसों को ध्यान में रख कर यह फैसला लिया गया है। क्योंकि AI आधारित कैमरा अब बिना किसी मैनुअल इंटरफेरेंस के विकल्स पर डायनामिक्स को टैक पर ले जाएगा। साथ ही उसे वाहन पोर्टल पर अपडेट भी चाहिए। यह कैमरे सड़क सुरक्षा प्राधिकरण के तहत लगाए जा रहे हैं।

कैसे करेगा काम ?

सड़क पर यदि कोई नियम का उल्लंघन करेगा तो AI आधारित कैमरा तुरंत उसके वाहन की नंबर प्लेट रीड कर लेगा और सीधे वाहनों का सारा रिकॉर्ड रखने वाले वाहन पोर्टल से लिंक करेगा। इसके बाद रियल टाइम में ही वाहन और वाहन के मालिक की पूरी जानकारी प्राप्त कर वाहन का चालान बनाकर उसे www.echallan.parivahan.gov.in पर अपडेट कर देगा।

इन लोगों पर लगेगा चालान :

  • बिना हेलमेट के वाहन चलाने पर

  • गलत साइड से गाड़ी चलने पर

  • दुपहिया वाहन पर तीन लोगों को बिठाने पर

  • बिना सीट बेल्ट के चारपहिया वाहन चलाने पर

  • वाहनों की उम्र पूरी होने के बाद बह चलाने वालो पर

  • वाहन चलाते समय फोन पर बात करने वालो पर

  • ओवरस्पीड में वाहन चलाने वालो पर

  • रेड सिग्नल पर बिना रुके पार करने वालो पर

  • पीयूसी और इंश्योरेंस समेत अन्य नियम का उल्लंघन करने वालो पर

अन्य जानकारी :

सामने आई जानकारी के अनुसार, इस प्रोजेक्ट में लगभग 20 करोड़ रुपये की लागत आएगी। जिसके तहत राज्य में 100-500 कैमरों से शुरूआत होगी और एक कैमरा दो लेन कवर करेगा। बता दें, इस एक कैमरे में 15-19 से अधिक श्रेणी में चालान काटने की क्षमता होगी।

DTIDC के अधिकारियों ने बताया :

DTIDC के अधिकारियों ने बताया कि, 'AI आधारित कैमरा अब बिना किसी मैनुअल हस्तक्षेप के सड़कों पर नियमों को ताक पर रखकर वाहन चलाने वालों का सीधा चालान करेगा। साथ ही उसे वाहन पोर्टल पर अपडेट भी करेगा। यह कैमरे सड़क सुरक्षा प्राधिकरण के तहत लगाए जा रहे हैं। निविदा के जरिए कंपनियों को आमंत्रित किया गया है। कंपनियों को खुद ही कैमरा लगाने के साथ उसका परिचालन करना होगा। उसके लिए सरकार की ओर से चालान संख्या के हिसाब से मासिक भुगतान किया जाएगा। पहले छह माह के लिए कंपनी के साथ अनुबंध होगा। सही परिणाम के बाद इसको पांच साल के लिए बढ़ाया जाएगा।'

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co