CM Arvind Kejriwal : विधायकों की खरीद फरोख्त मामले में दिल्ली पुलिस नोटिस देने पहुंची CM केजरीवाल के आवास

Delhi Police Crime Branch Officer Reached CM Kejriwal Residence : मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की मुसीबतें ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहीं हैं।
CM Arvind Kejriwal
CM Arvind KejriwalRaj Express
Submitted By:
gurjeet kaur

हाइलाइट्स :

  • शुक्रवार को भी सीएम आवास पहुंचे थे पुलिस अधिकारी।

  • CM केजरीवाल ने BJP पर लगाए थे 7 MLA खरीदने के आरोप।

  • दिल्ली पुलिस मांग रही CM द्वारा लगाए गए आरोपों के सबूत।

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की मुसीबतें ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहीं हैं। ईडी के बाद अब उन्हें दिल्ली पुलिस द्वारा नोटिस दिए जा रहे हैं। शनिवार सुबह दिल्ली क्राइम ब्रांच के अधिकारी मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर पहुंचे। क्राइम ब्रांच के अधिकारी उस मामले के संबंध में सीएम को नोटिस देने पहुंचे थे जिसमें उन्होंने बीजेपी पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगाया था। शुक्रवार शाम भी दिल्ली पुलिस सीएम केजरीवाल के आवास पर पहुँची थी।

शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और मंत्री आतिशी के आवास पर दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के अधिकारी पहुंचे थे लेकिन दोनों ही नेताओं ने कोई भी नोटिस स्वीकार करने से मन कर दिया था। इसलिए नोटिस देने के लिए पुलिस अधिकारी शुक्रवार सुबह भी सीएम आवास पर पहुंचे।

इस मामले में दिल्ली CMO सूत्रों का दावा है कि, "सीएम कार्यालय नोटिस स्वीकार करने के लिए तैयार है। क्राइम ब्रांच के अधिकारी सीएम कार्यालय को 'रिसीविंग' नहीं दे रहे हैं।"

दरअसल 27 जनवरी को सीएम केजरीवाल ने एक्स अकाउंट पर ट्वीट कर कहा था कि, पिछले दिनों इन्होंने (बीजेपी) हमारे दिल्ली के 7 MLAs को संपर्क कर कहा - “कुछ दिन बाद केजरीवाल को गिरफ़्तार कर लेंगे। उसके बाद MLAs को तोड़ेंगे। 21 MLAs से बात हो गयी है। औरों से भी बात कर रहे हैं। उसके बाद दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार गिरा देंगे। आप भी आ जाओ। 25 करोड़ रुपये देंगे और बीजेपी की टिकट से चुनाव लड़वा देंगे।”

सीएम अरविन्द केजरीवाल
सीएम अरविन्द केजरीवालRaj Express

मुख्यमंत्री के इन्ही आरोपों का सबूत माँगने दिल्ली क्राइम ब्रांच के अधिकारी नोटिस लेकर पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री के अलावा आप सरकार में मंत्री आतिशी ने भी बीजेपी पर इसी तरह के आरोप लगाए थे। शुक्रवार को दोनों ही नेताओं ने नोटिस स्वीकार करने से इंकार कर दिया था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co