सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस से मांगा जवाब

दिल्ली उच्च न्यायालय ने पत्रकार सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले में निचली अदालत द्वारा दोषी ठहराए गए, चार लोगों की अपील पर दिल्ली पुलिस से जवाब मांगा है।
दिल्ली उच्च न्यायालय
दिल्ली उच्च न्यायालयRE
Submitted By:
Sudha Choubey

हाइलाइट्स-

  • सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले में से जुड़ी बड़ी खबर आई सामने।

  • सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस से मांगा जवाब।

नई दिल्ली, भारत। दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को पत्रकार सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। बता दें, दिल्ली उच्च न्यायालय ने 2008 में टीवी पत्रकार सौम्या विश्वनाथन की हत्या के मामले में निचली अदालत द्वारा दोषी ठहराए गए चार लोगों की अपील पर मंगलवार को दिल्ली पुलिस से जवाब मांगा, जिसमें उन्होंने अपनी दोष सिद्धि और आजीवन कारावास की सजा को चुनौती दी है। न्यायमूर्ति सुरेश कुमार कैत और न्यायमूर्ति मनोज जैन की पीठ ने रवि कपूर, अमित शुक्ला, बलजीत सिंह मलिक और अजय कुमार की अपील पर पुलिस को नोटिस जारी किया।

12 फरवरी को होगी अगली सुनवाई:

बता दें कि, उच्च न्यायालय ने सजा निलंबित करने का अनुरोध करने वाली दोषियों की अंतिम याचिका पर भी प्राधिकारियों से जवाब दाखिल करने को कहा है। मामले पर अगली सुनवाई के लिए 12 फरवरी की तारीख तय की गई है। सौम्या की, अपनी कार से दफ्तर से घर लौटते वक्त 30 सितंबर 2008 को गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। पुलिस ने लूटपाट के मकसद से सौम्या की हत्या किए जाने का दावा किया था।

मामले को लेकर अदालत ने कहा कि, वह सर्जरी के दावे के लिए कोई भी सहायक दस्तावेज़ उपलब्ध कराने में विफल रहा और 2002 से 2010 तक लगभग 20 आपराधिक मामलों में शामिल होने के कारण उसकी आदतन अपराधी स्थिति पर ध्यान दिया। अभियुक्तों को दोषी ठहराते हुए निचली अदालत ने कहा था कि, अपराध "दुर्लभतम" मामलों की श्रेणी में नहीं आता है, और मौत की सजा के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया था।

आपको बता दें कि, नेल्सन मंडेला मार्ग पर 30 सितंबर 2008 को सौम्या विश्वनाथन की उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई, जब वह अपनी कार में काम से घर लौट रही थीं। मलिक, कपूर और शुक्ला को पहले 2009 में आईटी कार्यकारी जिगिशा घोष की हत्या में दोषी ठहराया गया था। घोष की हत्या के लिए ट्रायल कोर्ट ने कपूर और शुक्ला को मौत की सजा सुनाई और मलिक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co