राज्य पसंद नहीं तो भुगतान बंद कर दिया जाए, ऐसा संभव नहीं - वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

Finance Minister Nirmala Sitharaman : वित्त मंत्री ने कहा, "अगर आप ऐसे खर्च कर रहे हैं, जो आपके राज्य के बजट के अनुरूप नहीं है, तो मुझे दोष न दें।"
Finance Minister Nirmala Sitharaman
Finance Minister Nirmala SitharamanRaj Express
Submitted By:
gurjeet kaur

हाइलाइट्स :

  • लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान अधीर रंजन चौधरी ने पूछा था सवाल।

  • वित्त मंत्री ने कहा, वित्त आयोग की सिफारिश के अनुसार काम करती है सरकार।

  • निर्मला सीतारमण और अधीर रंजन चौधरी के बीच जमकर हुई लोकसभा में बहस।

नई दिल्ली। अगर कोई राज्य पसंद नहीं है तो भुगतान बंद कर दिया जाए ऐसा करना संभव नहीं है। यह बात वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को सदन में प्रश्नकाल के दौरान पूछे गए सवाल के जवाब में कही है। प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कर्नाटक को किये जा रहे भुगतान में विलंब को लेकर प्रश्न पूछा था।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को लोकसभा में केंद्र सरकार द्वारा गैर - भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित राज्यों के लिए जाने वाले कोष पर रोक लगाने के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि, इस तरह के आरोप राजनीति से प्रेरित है।

मंत्री सीतारमण ने प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि, केंद्र सरकार वित्त आयोग की सिफारिशों के अनुसार काम करती है। उन्होंने कहा कि, यह संभव नहीं है कि कोई वित्त मंत्री यह कहकर हस्तक्षेप कर सके कि उसे यह राज्य पसंद नहीं है, इसलिए उसका भुगतान बंद कर दिया जाए। यह राजनीति से प्रेरित विचार हैं और निहित स्वार्थ वाले लोग ऐसा कह रहे हैं।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के सवाल के जवाब में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि, केंद्र सरकार वित्त आयोग की सिफारिशों के अनुसार काम करती है। इसमें किसी राज्य के कोष को रोका नहीं जा सकता है। वित्त मंत्री ने कहा, अगर आप ऐसे खर्च कर रहे हैं, जो आपके राज्य के बजट के अनुरूप नहीं है, तो मुझे दोष न दें।"

लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान बोलते हुए कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने सीतारमण से कर्नाटक के प्रति केंद्र के "अंधाधुंध और मनमाने रवैये" के पीछे का कारण पूछा था। उन्होंने कहा था कि, "मैं यह जानना चाहूंगा कि, क्या कर्नाटक राज्य सरकार अपना वाजिब हक पाने से वंचित रह गई है क्योंकि कुछ महीने पहले ऐसी स्थिति नहीं थी। सब कुछ ठीक-ठाक था, लेकिन नई सरकार की स्थापना के बाद...मुसीबत शुरू हुआ। इसके पीछे क्या कारण है।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co