केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी
केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशीRaj Express

No More Hijab Controversy : कर्नाटक CM हिंदुओं और मुसलमानों को अलग करने का काम कर रहे - मंत्री प्रहलाद जोशी

No More Hijab Controversy : केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया जानबूझकर हिंदुओं और मुसलमानों को विभाजित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

हाइलाइट्स

  • हिजाब पर प्रतिबन्ध विवाद में केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी की प्रतिक्रिया।

  • कहा - कर्नाटक के सीएम जानबूझकर ऐसा कर रहे।

No More Hijab Controversy : नई दिल्ली। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया द्वारा हिजाब से प्रतिबन्ध हटाने के बयान के बाद सिसायत में हलचल जारी है। हिजाब प्रतिबन्ध विवाद को लेकर बीते दिन शनिवार को कई नेताओं ने मुख्यमंत्री और राज्य सरकार पर निशाना साधा था। इसी कड़ी में रविवार को केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया जानबूझकर हिंदुओं और मुसलमानों को विभाजित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बयान देते हुए कहा कि, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया जान -बूझकर ऐसा व्यवहार कर रहे हैं। हिजाब पर कोई प्रतिबंध नहीं है। जहां भी ड्रेस कोड है, उसका पालन करना होगा और हाई कोर्ट ने भी यही कहा है। वह जानबूझकर हिंदुओं और मुसलमानों को विभाजित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। पूरी खबर पढ़नें के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी
INDI गठबंधन देश में सरकार बनाते हैं तो इस्लामिक कानून लागू होगा- केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

दरअसल, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के द्वारा दिए गए बयान जिसमें हिजाब पर से प्रतिबन्ध हटाने की बात कही गई थी। इसके बाद से राजनीतिक दलों द्वारा इसका विरोध शुरु हो गया था। हालांकि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने अपने बयान में सफाई देते हुए दूसरा बयान मीडिया को दिया था जिसमें उन्होंने हिजाब प्रतिबन्ध हटाने को लेकर किसी आधिकारिक नोटिस जारी नहीं होने की बात कही थी। पूरी खबर पढ़नें के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी
सीएम सिद्धारमैया ने कहा - हमने आधिकारिक नोटिस जारी नहीं किया, क्या हटेगा हिजाब से प्रतिबन्ध?

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co