जंतर- मंतर पर हो रहे विरोध पर केंद्रीय मंत्री राजीव ने कहा- अक्षमता- भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए राजनीतिक नाटक

Rajeev Chandrashekhar on Protest At Jantar Mantar : केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा, INDI गठबंधन के तीन सहयोगियों द्वारा समन्वित प्रयास में एक राजनीतिक नाटक किया जा रहा है।
Protest At Jantar Manta, केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर
Protest At Jantar Manta, केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखरRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • जंतर- मंतर पर हो रहे विरोध पर केंद्रीय मंत्री राजीव ने साधा निशाना।

  • कहा - INDI गठबंधन के तीन सहयोगियों द्वारा राजनीतिक नाटक हो रहा।

  • मध्य पूर्व के प्रेषण के बिना, केरल की अर्थव्यवस्था श्रीलंका से भी बदतर होगी।

Protest At Jantar Mantar : दिल्ली। INDI गठबंधन के तीन सहयोगियों द्वारा समन्वित प्रयास में एक राजनीतिक नाटक किया जा रहा है। उनके एकल-बिंदु एजेंडा दक्षिण बनाम उत्तर की कहानी तैयार करना है। यह उनकी अक्षमता और भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए एक राजनीतिक नाटक के अलावा और कुछ नहीं है। यह बात केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने गुरुवार को विभिन्न राज्यों द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर किये जा रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर कही है।

दरअसल, बीते दिन बुधवार से दिल्ली के जंतर मंतर पर विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा केंद्र के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। धरना प्रदर्शन का मुख्य विषय केंद्र द्वारा फंड एलोकेशन है। प्रदर्शन कर रही पार्टियों का कहना है कि, वे वित्तीय अन्याय के खिलाफ सरकार का विरोध करेंगे।

केरल दिवालिया होने की कगार पर - मंत्री राजीव चंद्रशेखर

आगे केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि,दक्षिणी राज्यों को करों के असमान (Unequal) वितरण के आरोप पर केंद्र सरकार के खिलाफ केरल के मुख्यमंत्री के विरोध पर केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा, केरल देश में सबसे खराब आर्थिक रूप से कुप्रबंधित राज्य है। आगे उन्होंने बताया कि, सुप्रीम में उनके स्वयं के प्रवेश से कोर्ट ने माना है कि 2016 से 2023 के बीच केरल को 1,10,000 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है... केरल दिवालिया होने की कगार पर है क्योंकि मध्य पूर्व के प्रेषण के बिना, केरल की अर्थव्यवस्था श्रीलंका से भी बदतर होगी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co