भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024 को संबोधित कर बोले PM मोदी- भारत में मिडिल क्‍लास का दायरा तेजी से बढ़ रहा

दिल्‍ली के भारत मंडपम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024' को संबोधित कर अपने संबोधन में कही ये बातें...
भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024 को संबोधित कर बोले PM मोदी- भारत में मिडिल क्‍लास का दायरा तेजी से बढ़ रहा
भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024 को संबोधित कर बोले PM मोदी- भारत में मिडिल क्‍लास का दायरा तेजी से बढ़ रहाRaj Express
Submitted By:
Priyanka Sahu

दिल्‍ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शुक्रवार को दिल्‍ली के भारत मंडपम में आयोजित 'भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024' में शामिल हुए और उन्‍होंने भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो 2024 को संबोधित कर कहा, ये आयोजन मोबिलिटी कम्युनिटी और पूरी सप्लाई चेन को एक मंच पर लाया है। मैं आप सभी का भारत मोबिलिटी ग्लोबल एक्सपो में अभिनंदन करता हूं और बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- आज का भारत 2047 तक 'विकसित भारत' बनाने के लिए आगे बढ़ रहा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए मोबिलिटी सेक्टर अहम भूमिका निभाने वाला है। मैंने लाल किले की प्राचीर से कहा, "यही समय, सही समय है।" ये शब्द मैंने देश की जनता की क्षमता के कारण कहे। जब मेरी पहली टर्म थी उस समय मैंने एक ग्लोबल लेवल की मोबिलिटी कांफ्रेंस प्लान की थी। उस समय की आप चीजें देखेंगे कि बैट्री पर हमारा फोकस क्यों होना चाहिए, इलेक्ट्रिक व्हीकल की तरफ हमें कैसे जल्दी जाना चाहिए... इन विषयों पर विस्तार से वो समिट हुआ था। आज मैं अपनी दूसरी टर्म में देख रहा हूं कि खासी मात्रा में प्रगति हो रही है और मुझे विश्वास है कि तीसरी टर्म में भी यह तेजी से आगे बढ़ेगा।

भारत आगे बढ़ रहा है और तेजी से आगे बढ़ रहा है... आज भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ रही है और हमारी सरकार के तीसरे टर्म में भारत का दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनना तय है। पिछले 10 वर्षों में करीब 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  • आज भारत में बड़ी संख्या में Neo Middle Class बना है। जिसकी अपनी आशा है, अपनी आकांक्षाएं हैं। दूसरी ओर, आज भारत में Middle Class का दायरा भी तेजी से बढ़ रहा है। Middle Class की इनकम भी बढ़ रही है। 2014 से पहले 10 साल में देश में करीब 12 करोड़ गाड़ियां बिकीं। हालाँकि, 2014 के बाद से देश में 21 करोड़ से अधिक वाहन बेचे गए हैं। 10 साल पहले, लगभग 2,000 इलेक्ट्रिक वाहन बेचे जा रहे थे। हालाँकि, अब 12 लाख इलेक्ट्रिक वाहन बेचे जा रहे हैं।पिछले 10 वर्षों में यात्री वाहनों में लगभग 60% की वृद्धि दर्ज की गई है।

  • 2014 में भारत का पूंजीगत व्यय 2 लाख करोड़ रुपये से कम था। आज ये बढ़कर 11 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा हो गया है। यह घोषणा भारत के गतिशीलता क्षेत्र के लिए ढेर सारे अवसर लेकर आई है।

  • जो ट्रक चलाते हैं, जो टैक्सी चलाते हैं, वो ड्राइवर हमारी सामाजिक और आर्थिक व्यवस्था का एक अभिन्न हिस्सा हैं। अक्सर ये ड्राइवर्स घंटों-घंटों लगातार ट्रक चलाते हैं, इनके पास आराम का समय नहीं होता। ड्राइवर्स को बीच सफर में आराम देने के लिए केंद्र सरकार ने एक नई योजना पर काम शुरू किया है। इस योजना के तहत सभी नेशनल हाईवेज पर ड्राइवरों के लिए नई सुविधाओं वाले आधुनिक भवनों का निर्माण होगा।

  • रिसर्च और टेस्टिंग को और बेहतर करने के लिए नेशनल प्रोजेक्ट को 3,200 करोड़ रुपए दिए गए हैं। नेशनल इलेक्ट्रिक मोबिलिटी मिशन की मदद से भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के निर्माण को नई गति मिली है। EV की गति को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने करीब 10 हजार करोड़ का निवेश किया है।

  • भारत का किसान आपकी रबर की आवश्यकता को पूरी कर सकता है। आज रिसर्च करके जेनिटिकली मोडिफाई किए हुए रबर ट्री पर बहुत काम हुआ है। भारत में अभी इसका उतना इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। मैं टायर बनाने वालों से आग्रह करूंगा कि आप किसानों के साथ जुड़िए। जब किसान मजबूत होगा तो देश में चार गाड़ी और खरीदेगा। अपने आप पर भरोसा कीजिए, सामर्थ्य के साथ खड़े हो जाइए, विश्व का कोई ऐसा रास्ता नहीं होगा, जहां आप नजर नहीं आएंगे। हर जगह आपकी गाड़ी नजर आएगी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co