देश के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती आज
देश के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती आजRE

देश के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती आज, पीएम मोदी ने किया नमन

आज देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की 139वीं जयंती है। इस खास मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई नेताओं ने नमन किया है।

हाइलाट्स-

  • देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की 139वीं जयंती आज।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई नेताओं दी श्रद्धांजलि।

  • डॉ राजेंद्र प्रसाद ने संविधान के निर्माण में भी अहम भूमिका निभाई थी।

Rajendra Prasad Jayanti: आज देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की 139वीं जयंती है। बता दें, डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेकर आजादी की लड़ाई में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने संविधान के निर्माण में भी अहम भूमिका निभाई थी। आज डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई नेताओं ने नमन किया है।

नरेंद्र मोदी ने किया नमन:

आज डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नमन किया है। उन्होंने कहा कि, "हमारे इतिहास के महत्वपूर्ण क्षणों में डॉ. राजेंद्र प्रसाद की गहन बुद्धिमत्ता और दृढ़ नेतृत्व अत्यंत गर्व का स्रोत है। लोकतंत्र और एकता के चैंपियन के रूप में उनके प्रयास पीढ़ियों तक गूंजते रहेंगे। उनकी जयंती पर उन्हें शत-शत नमन।"

योगी आदित्यनाथ ने कही यह बात:

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, "भारत के प्रथम राष्ट्रपति, संविधान सभा के अध्यक्ष, 'भारत रत्न' डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि। स्वाधीनता संग्राम से लेकर स्वाधीन भारत के नवनिर्माण में उनका योगदान अतुलनीय रहा। उनका सादगीपूर्ण जीवन सनातन व संविधान के संतुलन का अद्वितीय प्रतीक था।"

केशव प्रसाद मौर्य ने कही यह बात:

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि, "जो बात सिद्धांत में ग़लत है, वह व्यवहार में भी उचित नहीं है।" बिहार के गौरव, सादा जीवन-उच्च विचार' दर्शन की प्रतिमूर्ति, भारतीय संविधान के निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं देश के प्रथम राष्ट्रपति भारतरत्न डॉ0 राजेन्द्र प्रसाद जी की जयंती पर उन्हें शत-शत नमन। स्वतंत्र भारत के निर्माण में अपने अतुलनीय योगदान के लिए उन्हें सदैव याद रखा जाएगा।"

बता दें कि, भारतरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद का जन्म जिला अंतर्गत जीरादेई गांव में हुआ था। लोग कई दशकों से यह मांग करते रहे की डॉ राजेंद्र प्रसाद के जन्म स्थल को एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाए, लेकिन आज तक ऐसा नहीं हो सका।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co