बजट में स्वास्थ्य सेक्टर को ज्‍यादा प्राथमिकता क्‍यों- जयशंकर ने बताई वजह
बजट में स्वास्थ्य सेक्टर को ज्‍यादा प्राथमिकता क्‍यो-जयशंकर ने बताई वजहTwitter

बजट में स्वास्थ्य सेक्टर को ज्‍यादा प्राथमिकता क्‍यों- जयशंकर ने बताई वजह

विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने भाजपा आंध्र प्रदेश मुख्यालय प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोरोना महामारी व इस बार के बजट में स्वास्थ्य सेक्टर को ज़्यादा प्राथमिकता को लेकर ये बात कही...

दिल्‍ली, भारत। संसद में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 1 फरवरी को देश का पहला पेपरलेस आम बजट का पिटारा खुल चुका है। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 पेश कर दिया है, जिस पर अभी तक प्रतिक्रियाें का दौर जारी है। आज ही विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने भाजपा आंध्र प्रदेश मुख्यालय विजयवाड़ा में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में जयशंकर ने कहा :

भाजपा आंध्र प्रदेश मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा- जब कोरोना महामारी भारत में आई तब कोई कोविड सेंटर नहीं थे, कोई पीपीई किट नहीं बनाता था, बहुत ही कम लोग मास्क और हैंड सैनिटाइजर बनाते थे, लेकिन इस दौरान आप सबके प्रयासों से हमने 16,000 कोविड सेंटर बनवाए, हमारे पास मास्क और पीपीई किट बनाने वाली 1,000 कंपनी है।

हमारी उम्मीद है कि, हम आने वाले वर्ष में दो अंकों की 11% से अधिक की वृद्धि प्राप्त करेंगे। हमारे लिए मुद्दा कोरोना रिकवरी एंड इकोनॉमिक रिकवरी के बीच है, भविष्य की दिशा क्या होनी चाहिए। इस बार यह बजट द्वारा स्पष्ट रूप से इंगित किया गया था।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर

विदेश मंत्री ने बताया स्वास्थ्य सेक्टर को क्‍याें दी प्राथमिकता :

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बजट 2021 को लेकर ये बात भी कही कि, ''कोरोना के बाद भारत पहले से बहुत अलग है। आज हमारे लिए लोगों का स्वास्थ्य बहुत महत्वपूर्ण है, इसलिए इस बार के बजट में सरकार ने स्वास्थ्य सेक्टर को ज़्यादा प्राथमिकता दी है।''

बता दें कि, मोदी सरकार ने कोरोना को देखते हुए स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए बजट में बढ़ोतरी की है और इस बार हेल्थ बजट कुल 2 लाख 32 हजार करोड़ रुपए का है। पिछले साल की तुलना में 137% की बढ़त के साथ वित्त वर्ष 2021-22 के लिए हेल्थ बजट 2,32,846 करोड़ रुपये का रखा गया। कोविड वैक्सीन के लिए 35 हजार करोड़ आवंटित किया गया है। जरूरत पड़ने पर और फंड दिया जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co