Earthquake: नेपाल में भूकंप के तेज झटके-बिहार के कई जिलों में भी कांपी धरती
Earthquake: नेपाल में भूकंप के तेज झटके-बिहार के कई जिलों में भी कांपी धरती|Social Media
भारत

Earthquake: नेपाल में भूकंप के तेज झटके-बिहार के कई जिलों में भी कांपी धरती

Earthquake: नेपाल की राजधानी काठमांडू में बुधवार सुबह जोरदार भूकंप का झटका महसूस किया गया, साथ ही नेपाल सीमा से लगते ब‍िहार के कई इलाकों में भी धरती थराई है। जानें क्‍या थी भूकंप की तीव्रता...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

Earthquake: कोरोना महामारी की दहशत के बीच प्रकृति का कहर भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। कई जगहों पर बार-बार भूकंप आ रहा है। आज सुबह-सुबह फिर ये खबरे सामने आई है कि, नेपाल की राजधानी काठमांडू में भूकंप आया, साथ ही नेपाल सीमा से लगते ब‍िहार के कई इलाकों में भी धरती थराई है।

काठमांडू में भूकंप के तेज झटके :

नेपाल की राजधानी काठमांडू के 50 किमी पूर्वी क्षेत्र में आज सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इस दौरान भूकंप की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर 5.4 मापी गई है। साथ ही इस भूकंप का असर बिहार के कई जिलों पटना, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी समेत उत्तर बिहार के कई जिलों में महसूस किया गया हैं और यहां भूकंप की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर 4.9 बताई जा रही है।

भूकंप के बाद घरों से बाहर निकले लोग :

भारत के नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, "भूकंप सुबह 5 बजकर 4 मिनट और 7 सेकेंड पर आया। झटके महसूस होने पर लोग घरों से बाहर निकल आए। हालांकि इसमें किसी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।" वहीं, राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने अपने एक ट्वीट में कहा, ''सिंधुपलचौक जिले में आज सुबह 5:19 बजे 6.0 तीव्रता का भूंकप आया।''

नेपाल के भूकंप का असर बिहार तक महसूस :

बता दें, भूकंप का मुख्य केंद्र नेपाल बताया जा रहा है। हालांकि, काफी कम समय तक भूकंप के झटके महसूस किए गए। सबसे पहले नेपाल की राजधानी काठमांडू घाटी सुबह जोरदार भूकंप का झटका इतना जोरदार था कि, इसका असर नेपाल से सटे बिहार के कुछ इलाकों में भी महसूस किया गया।

गौरतलब है कि, वर्ष 2015 में अप्रैल के माह में नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप के बाद से लगातार मामूली झटके महसूस किए जा रहे थे, लेकिन बुधवार सुबह आए झटकों के बाद काठमांडू के लोग दहशत में नजर आ रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co