कड़कड़ाती ठंड में दिल्ली, राजस्थान और मणिपुर की धरती भूकंप के झटकों से डोली
कड़कड़ाती ठंड में दिल्ली, राजस्थान और मणिपुर की धरती भूकंप के झटकों से डोलीSocial Media

कड़कड़ाती ठंड में दिल्ली, राजस्थान और मणिपुर की धरती भूकंप के झटकों से डोली

दिल्ली, राजस्थान और मणिपुर में देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं, हालांकि इस दौरान किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं मिली है...

दिल्ली, भारत। इस साल 2020 में कोरोना के महासंकट काल के बीच प्राकृतिक आपदा ने भी जबरदस्‍त क्रोध बरपा रखा है, लगातार अलग अलग जगहों पर भूकंप की खबरें सामने आ रही हैं। देश के कई राज्‍याें में भूकंप के कारण धरती डोल रही है। वहीं अब कड़कड़ाती ठंड के बीच इन 3 राज्‍यों दिल्ली, राजस्थान और मणिपुर में भूकंप आया है।

राजस्थान के अलवर जिले में देर रात मध्यम तीव्रता का भूकंप आया, इसके बाद उत्तर पूर्वी भारत में भी रात के समय मणिपुर के लोगों ने धरती में कंपन दर्ज किया गया। इतना ही नहीं, इन दो राज्‍यों के बाद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के इलाकों में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए।

दिल्ली-एनसीआर में आए भूकंप की तीव्रता :

जानकारी के अनुसार, दिल्ली एनसीआर में रात के वक्‍त लगभग 11 बजकर 46 मिनट पर लोगों ने भूकंप के झटकों को महसूस किया और लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल गए। इस दौरान भूकंप की तीव्रता 4.2 बताई गई है और भूकंप का केंद्र गुरुग्राम से 48 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम बताया जा रहा है।

राजस्थान के सीकर में आया भूकंप :

इसके अलावा राजस्थान के सीकर जिले में भी गुरुवार शाम के समय भूकंप के झटकों की खबर सामने आई है। मौसम विभाग द्वारा सामने आई जानकारी के अनुसार, ''भूंकप की तीव्रता 3.0 रेक्टेयर मापी गई है। इस भूंकप का लेटिट्यूट नार्थ साइड में 27.40 और लॉगिट्यूट ईस्ट दिशा में 75.43 मापा गया है।''

मणिपुर भी भूकंप से थरथर्राया :

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, गुरुवार को ही मणिपुर की धरती भूकंप के झटकों से थरथराई है और इस दौरान रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 3.2 दर्ज हुई है। तो वहीं, भूकंप का केंद्र मोइरंग, मणिपुर से 38 किलोमीटर दक्षिण में था।

बता दें कि, कोरोना के दौर में देश-दुनिया में लगातार ही भूकंप आने से धरती कांप रही है और भूकंप के झटकों के कारण लोगों के मन में दहशत बढ़ रही है। तो वहीं, बीती रात इन तीनों ही जगह भूकंप का केंद्र स्थानीय स्तर पर रहा। हालांकि, इस दौरान किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co