बक्‍सर में पुलिस की कार्रवाई के बाद भड़के किसानों ने लिया उग्र रूप
बक्‍सर में पुलिस की कार्रवाई के बाद भड़के किसानों ने लिया उग्र रूप Social Media

बक्‍सर में पुलिस की कार्रवाई के बाद भड़के किसानों ने लिया उग्र रूप

बिहार के बक्‍सर में मंगलवार की रात को पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से किसान भड़कने पर मजबूर हो गए। फिर क्या था यह भड़के हुए किसानों ने उग्र रूप ले लिया।

बक्‍सर, बिहार। जैसा कि सभी जानते हैं, बिहार के लोग ज्यादातर झगड़ों के मामलों में आगे रहते हैं। भारत में सबसे ज्यादा बड़े पद पर बिहार के ही अधिकारी पाए जाते हैं। इसके अलावा क्राइम के मामलों में भी सबसे आगे बिहार का ही नाम रहता है। हड़तालों और विरोध प्रदर्शन के लिए भी बिहार के लोग काफी आगे हैं। वहीँ, हाल ही में बिहार के बक्‍सर में किसानों द्वारा विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। इसी बीच मंगलवार की रात को पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से किसान भड़कने पर मजबूर हो गए। फिर क्या था, इन भड़के हुए किसानों ने उग्र रूप ले लिया।

बक्सर में किसान हुए उग्र :

दरअसल, बिहार के बक्सर जिले के चौसा में किसान जमकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। जो कि, थर्मल पावर प्रोजेक्ट से जुड़ी पाइप लाइन और रेलवे लाइन के लिए जमीन अधिग्रहण के मुआवजे को लेकर किया जा रहा है। ये मामला उचित मुआवजे की मांग को लकर है। जो कि, किसान सतलुज जल विद्युत निगम (SJVN) के थर्मल पावर प्लांट के लिए जमीन का अधिग्रहण होने के बाद मांग रहे हैं। जैसा कि, देश में कहीं भी प्रदर्शन होते हैं तो पुलिस उसे रोकने की कोशिश करती है। ठीक इसी तरह पुलिस ने इन्हें रोकने की कोशिश करने के लिए मंगलवार की रात इन किसोनों के घरों में घुसकर उनकी पिटाई की। इसके बाद किसान सड़कों पर उतर आए और उग्र रूप ले लिया।

किसानों का फूटा गुस्सा :

पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से इन सभी नाराज किसानों का गुस्सा फूट पड़ा और वह बुधवार की सुबह एक साथ गांवों से निकले। लगभग सुबह नौ बजे 500 के आसपास किसानों ने अखौरीपुर गोला के पास कुछ पुलिसकर्मियों को पीटा। इतना ही नहीं इन्होने पावर प्लांट पर जाकर तोड़फोड़ की वहां खड़े वाहनों में आग लगा दी। इस तरह का उपद्रव यहां 9.30 से लगभग 11 बजे तक देखने को मिला। अपने बचाव में प्लांट के सुरक्षा गार्ड और पुलिस ने हवाई फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान घटना स्थल पर बाहर का कोई पुलिस बल नहीं पहुंच पाया। इसके बाद जब किसान पावर प्लांट से बाहर निकले उसके लगभग डेढ़ घंटे बाद पुलिस बल बाहर से पहुंचा।

पुलिस के यह अधिकारी रहे मौजूद :

बताते चलें, पावर प्लांट में बाहर से गए पुलिस बल में डीएम अमन समीर, एसपी मनीष कुमार सहित बक्सर जिले के सभी बड़े पुलिस और प्रशासन के अधिकारी भी पहुंचे। इसके बाद दोपहर के 2: 45 पर डीआईजी नवीन चंद्र झा भी प्लांट पहुंचे। इसके बाद वहां तहस नहस हालातों को देख कर सभी थानों से पुलिस को यहां बुलाकर तैनात कर दिया गया। इतना ही नहीं पुलिस लाइन से भी फोर्स बुलावा ली गई थी। जिले के दमकल विभाग को आग बुझाने के आदेश दिए गए। हालांकि, पुलिस ने कुछ आरोपी किसानों को गिरफ्तार कर लिया। इन सब के बीच गांवों के लोग पुलिस कार्रवाई की आशंका से डर गए हैं। इन सब के चलते मार्केट आज दिनभर बंद नज़र आए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co