बिहार सरकार का 28 सितंबर से सभी स्कूल खोलने का फैसला-गाइडलाइन जारी
बिहार सरकार ने आज सभी स्कूलों को खोलने का अहम फैसला लिया, अब बिहार में 28 सितंबर से सभी स्कूल खुलेंगे और इसके लिए सभी छात्रों और शिक्षकों को सरकार की गाइडलाइन का पालन करना होगा।
बिहार सरकार का 28 सितंबर से सभी स्कूल खोलने का फैसला-गाइडलाइन जारी
बिहार सरकार का 28 सितंबर से सभी स्कूल खोलने का फैसला-गाइडलाइन जारीPriyanka Sahu -RE

बिहार, भारत। देश में महामारी कोरोना वायरस बड़ी तादाद में लोगों को जकड़ रहा है, जिससे रिकार्ड स्तर पर नए मामलों की पुष्टि हो रही है, इसी के चलते देश में कोरोना से बने हालातों को मद्देनजर मार्च के माह से ही सभी राज्यों में स्कूल बंद है, लेकिन अब एक एक करके सभी राज्‍यों की सरकार सभी बंद स्कूलों को खोलने विचार किया है। अब बिहार की नीतीश सरकार ने 28 सितंबर से सभी स्कूल खोलने का फैसला किया है।

स्कूल खोलने को लेकर बिहार सरकार की गाइडलाइन :

कोरोना महामारी के दौरा में बिहार में 28 सितंबर से स्कूल खोलने से पहले बिहार की सरकार द्वारा गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है। इसके तहत छात्रों, टीचिंग और नॉन टीचिंग स्‍टाफ के लिए दिशा-निर्देश दिए गए हैं। तो वहीं, बिहार सरकार के स्कूल खाेलने के फैसले के तहत अब बच्चों को रोजाना नहीं बल्कि सप्ताह में दो ही दिन स्कूल आना होगा, इस दौरान 50% टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ भी स्कूल में आएंगे। सरकार का यह आदेश निजी और सरकारी दोनों स्कूलों पर लागू होगा।

छात्रों और शिक्षकों के लिए गाइडलाइन :

वहीं, स्कूल जाने वाले सभी छात्रों और शिक्षकों को सरकार की गाइडलाइन का भी पालन करना होगा, जो इस प्रकार है-

  • सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना सबसे अहम है।

  • स्कूल में बच्चों को मास्क लगाकर ही रहना होगा।

  • इसके अलावा प्रैक्टिकल क्लास अभी नहीं होंगे।

  • सैनिटाइजर भी साथ में रखना होगा।

गाइडलाइन के आदेश के मुताबिक, 9वीं से 12वीं तक का एक बच्चा सप्ताह में सिर्फ दो ही दिन स्कूल जा सकता है। बिहार सरकार के इस फैसले के तहत केंद्र सरकार की ओर से जारी एसओपी का पालन करते हुए स्कूल जाने की अनुमति होगी। केंद्र सरकार की ओर से जारी अनलॉक-4 में 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को 21 सितंबर से स्कूल जाने की अनुमति दी गई थी।

वहीं, स्कूल प्रबंधन द्वारा कोरोना को देखते हुए कई तरह की एहतियात बरती जा रही हैं, जिनमें साफ-सफाई से लेकर आक्सीजन लेवल जांचने के लिए आक्सीमीटर तक की व्यवस्था होगी।

गौरतलब है कि, बिहार में 14 मार्च से स्कूल-कॉलेज समेत सभी शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। इसी के चलते आज मंगलवार को बिहार सरकार के शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने एक अहम बैठक बुलाई, जिसमें यह फैसला लिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co