नीतीश ने गंगा नदी में पटना शहर के गंदे पानी का प्रवाह रोकने का दिया निर्देश
नीतीश ने गंगा नदी में पटना शहर के गंदे पानी का प्रवाह रोकने का दिया निर्देशSocial Media

नीतीश ने गंगा नदी में पटना शहर के गंदे पानी का प्रवाह रोकने का दिया निर्देश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज अधिकारियों को गंगा नदी में पटना शहर के गंदे पानी का प्रवाह रोकने का निर्देश दिया।

पटना। नीतीश कुमार ने रविवार को यहां मंदिरी नाले पर शुरू किये गये विकास कार्य का निरीक्षण करने के बाद अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि गंगा नदी में शहर का गंदा पानी न जाये इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करें। मंदिरी नाले के पानी को शोधित कर पाइप के माध्यम से शहर के बाहर सिंचाई कार्य के लिए उपयोग में लाया जाय। उन्होंने कहा कि नगर विकास एवं आवास विभाग, जल संसाधन विभाग के साथ मिलकर इस पर तेजी से काम शुरू करेx।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, मंदिरी नाले पर बनने वाली सड़क को अशोक राजपथ के बाद एलिवेटेड कर जेपी गंगा पथ से मिला दिया जायेगा। इस पथ के जेपी गंगा पथ से जुडऩे से कई रूटों के लोगों के लिए आवागमन और सुगम होगा। उन्होंने कहा कि मंदिरी नाले पर बनने वाली सड़क से लोगों के आवागमन में काफी सहूलियत होगी और इस इलाके का और विकास होगा।

इससे पूर्व श्री कुमार ने मंदिरी नाले पर शुरू किये गये विकास कार्य का जायजा लिया। उन्होंने मंदिरी के ड्रेनेज पंपिंग प्लांट का निरीक्षण कर मंदिरी नाले पर होने वाले सड़क निर्माण कार्य के बारे में नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर से विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने मंदिरी नाले पर होने वाले सड़क निर्माण कार्य के संबंध में नगर विकास एवं आवास विभाग के अधिकारियों को कई निर्देश दिये। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने कल पटना स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत 'मंदिरी नाला के विकास कार्य' योजना का शिलान्यास किया था।

निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल ङ्क्षसह, जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह, नगर आयुक्त अनिमेश पराशर, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेन्द्र शर्मा सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.