बिहार CM नीतीश का महत्वपूर्ण संवाद- सत्ता में वापसी पर 7 निश्चय-2 की योजना
बिहार CM नीतीश का महत्वपूर्ण संवाद- सत्ता में वापसी पर 7 निश्चय-2 की योजना |Twitter
पूर्व भारत

बिहार CM नीतीश का महत्वपूर्ण संवाद- सत्ता में वापसी पर 7 निश्चय-2 की योजना

बिहार चुनावों की घोषणा उपरांत अब बिहार की मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रेस वार्ता की, इस दौरान उन्‍होंने सत्ता में वापसी पर ''7 निश्चय-2" लाएं जाने की बात की, जानें क्‍या है उनके ये 7 निश्चय...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

बिहार, भारत। देश में जारी कोरोना संंकटकाल केे दौर में भारत निर्वाचन आयोग (ECI) द्वारा आज बिहार विधानसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा के बाद चुनावी महासंग्राम का आगाज हो गया है। विधानसभा चुनावों की घोषणा उपरांत अब बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की प्रेस वार्ता हो रही हैै। जानें इस दौरान उन्‍होंने क्‍या-क्‍या कहा...

चुनाव आयोग की घोषणा का स्वागत :

इस दौरान बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, हम चुनाव आयोग की घोषणा का स्वागत करते हैं। समय पर चुनाव हो जाएगा। दशहरा औऱ दीपावली के बीच चुनाव हो जाएगा, इसका हम स्वागत करते हैं। हमारा मानना है कि जनता मालिक है। जनता ने हमारा काम देखा है और हमें भरोसा है कि आगे भी काम करने का मौका जनता देगी।''

हर क्षेत्र में हमने कार्य किया है, सात निश्चय का भी क्रियान्वयन हमने किया। हर जिले में शैक्षणिक संस्थानों का हमने निर्माण करवाया। सात निश्चय के अंतर्गत कई काम हुए हैं व कई काम चल रहे हैं। कॉलेज, स्कूल, अस्पताल का निर्माण भी हो रहा है। सात निश्चय में कोई भी निश्चय पेंडिंग नहीं है, सब पर काम हो रहा है।

नीतीश कुमार, बिहार के मुख्‍यमंत्री

जनता के भले के लिए किया काम :

बिहार में बीजेपी के साथ सरकार चला रहे CM नीतीश कुमार ने कहा- हमने हमेशा जनता के भले के लिए काम किया है फिर से अवसर मिलेगा तो फिर काम किया जाएगा। शिक्षा, स्वास्थ्य, आधारभूत संरचना, बिहार के हर वर्ग व हर क्षेत्र में विकास हुआ है। नौजवानों को स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना, कौशल योजना के तहत मदद की। महिलाओं को आगे बढ़ाया। जितनी महिलाएं बिहार में पुलिस में जाती हैं शायद ही कहीं और इतनी संख्या में जाती हों।

CM नीतीश द्वारा कही गई महत्‍वपूर्ण बातें :

  • हर घर बिजली, हर घर नल का चल, पक्की गलियों का निर्माण किया है।

  • सात निश्चय के अलावा हमने अन्य योजनाएं भी चलाईं, उन पर काम हो रहा है।

  • सड़कों का निर्माण किया है, पटना तक बिहार के किसी भी क्षेत्र से 6 घंटे में पहुंचने के लिए मार्ग की सुविधा को सुनिश्चित किया।

  • नई टेक्नोलॉजी के अनुसार युवाओं को इस तरह से ट्रेनिंग देंगे, जिससे कि उनको रोजगार मिले, संस्थानों की गुणवत्ता बढ़ाएंगे।

  • हर जिले में मेगा स्किल सेण्टर, हर प्रमंडल में टूल रूम, स्किल एवं उद्यमिता हेतु नया विभाग बनाएंगे।

  • उद्यमिता विकास के लिए भी सहयोग करेंगे और 50% इंवेस्टमेंट या 3 लाख तक की मदद करेंगे।

  • सात निश्चय पर हमने पहले काम किया अब "सात निश्चय-2" पर काम किया जाएगा, जिस पर हमने योजना बना ली है।

सत्ता वापसी में आने पर CM नीतीश लाएंगे ये 7 निश्चय :

CM नीतीश कुमार ने चुनाव तारीख के ऐलान के बाद कहा, यदि दोबारा मौका मिला तो वे सात निश्चय लाएंगे, जो इस प्रकार हैं-

  • "सक्षम बिहार, स्वावलंबी बिहार" बनाने के लिए पहला निश्चय "युवा शक्ति, बिहार की प्रगति" है।

  • दूसरा निश्चय है "सशक्त महिला सक्षम महिला" महिला उद्यमिता के लिए विशेष सहायता दी जाएगी। उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करने हेतु इंटर पास करने पर 25 हजार रुपए व ग्रेजुएट होने पर 50 हजार रुपए की सहायता देंगे।''

  • तीसरा निश्चय है "हर खेत में सिंचाई के लिए पानी"

  • चौथा निश्चय है "स्वच्छ गाँव, समृद्ध गांव" हम हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाएंगे। कूड़े का प्रबंधन करेंगे। पिछले सात निश्चय में जो कार्य हुए उनका भी रखरखाव करेंगे।

  • पांचवा निश्चय है "स्वच्छ शहर, विकसित शहर" ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए काम करेंगे। वृद्धजन के लिए आश्रय स्थल बनाएंगे। शहरी गरीबों हेतु बहुमंजिला आवास का निर्माण कराएंगे। विद्युत शवदाह गृह का भी निर्माण करेंगे।

  • छठवां निश्चय है - "सुलभ संपर्कता" हर गांव को सड़क के माध्यम से जोड़ दिया गया है। शहरों के आसपास बायपास व फ्लाईओवर का निर्माण कराएंगे।

  • सातवां निश्चय है "सबके लिए स्वास्थ्य सुविधा" मनुष्य हो या पशु सभी के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

CM नीतीश कुमार ने ये भी कहा, पूरा बिहार ही मेरा परिवार है और इसी के लिए हम काम करते हैं। कुछ लोगों के लिए उनका परिवार बेटा, बेटी, पत्नी ही परिवार है। कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों के खाते में पैसे डालना हमारा कर्तव्य था। कई शहरों में उनके खाने की व्यवस्था की। जो वापस आए उनको क्वारंटाइन किया। इसका लाभ लेने का कोई उद्देश्य नहीं है ये मेरा कर्तव्य है। बिहार में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है, रोजाना 1.75 लाख जांच हो रही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co