Raj Express
www.rajexpress.co
Muzaffarpur Women Burnt Alive
Muzaffarpur Women Burnt Alive|Priyanak Sahu -RE
पूर्व भारत

बिहार: रेप दरिंदों पर अंकुश नहीं, क्‍या ऐसे ही जलती रहेंगी बेटियां

देश में हैवानियत व बलात्कारों पर अंकुश नहीं लगेगा तो क्‍या बेटियां ऐसे ही जलती रहेंगी, क्‍योंकि अब बिहार के मुजफ्फरपुर में भी एक युवती से दुष्कर्म न कर पाने पर उसे जिंदा जला दिया गया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेेेस। देश में हैवानियत व बलात्कारों पर अंकुश नहीं लगेगा, तो क्‍या आएं दिन अब ऐसे ही बेटियां जलती रहेंगी, क्‍योंकि अब देश में 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' के नारे के बजाय केवल 'बेटी जलाओ' जैसी घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं।। जी हांं! उन्‍नाव- हैदराबाद के बाद अब बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur Women Burnt Alive) में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया हैं, यहां एक बेटी फिर आग के हवाले हुई है।

क्‍या है मामला:

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक लड़की को जलाने की वारदात सामने आई हैं, लेकिन इस दौरान यह बात पढ़ कर या सुन कर अचम्भा जरूर होगा, क्‍योंकि इस दरिंदे ने पीड़िता के साथ छेड़खानी की और दुष्कर्म करने की कोशिश की, लेकिन अब इसमें कामयाब नहीं हो सका, तो फिर उसने उस लड़की को जिंदा जला दिया।

पीड़िता का शरीर 80-85% जला :

इस पीड़िता का शरीर 80-85% जल चुका है और उसकी हालात काफी गंभीर है, इसी हालत में पीड़िता को मुजफ्फरपुर के अस्पताल SKMCH में भर्ती कराया गया है। वहीं, डॉक्टरों का कहना है कि, पीड़िता के बचने की उम्मीद कम है।

आरोपी 3 साल से कर रहा था परेशान :

मुजफ्फरपुर की यह दर्दनाक घटना आज नहीं, बल्कि शनिवार के दिन की है, लेकिन रविवार को यह मामला सामने आया है, हालांकि पुलिस ने इस दरिंदे को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही पीड़ित की मां का कहना है कि, ''आरोपी 3 साल से मेरी बेटी के साथ छेड़खानी कर रहा था। हम 5 बार अहियापुर थाने में शिकायत दर्ज कराने गए, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट नहीं लिखी। छठ के दिन भी आरोपी ने घर में घुसकर युवती से छेड़खानी की थी, लेकिन इसकी शिकायत पुलिस ने दर्ज नहीं की। आरोपी के डर के कारण मेरी बेटी ने कोचिंग जाना भी छोड़ दिया था।''

अपने घर में भी बेटियां सेफ नहीं :

अब तो अपने घर में भी रहने के बाद बेटियां सेफ नहीं हैं, क्‍योंकि यह मामला कुछ ऐसा ही है, पीड़िता की मां ने बताया- मैं नाइट ड्यूटी की वजह से शनिवार शाम साढ़े पांच बजे कटरा पीएचसी चली गई थी। घर में छोटी बेटी (पीड़िता) अकेली थी, तभी आरोपी ने घर में घुसकर बेटी के साथ मारपीट की। मोहल्ले में ही रहने वाली दूसरी बेटी की बेटी (नातिन) ने मुझे फोन करके पूरा यह जानकारी दी, लेकिन रात हो जाने की वजह से कटरा से आने के लिए कोई सवारी नहीं थी, इसी दौरान कुछ देर बाद फिर उसने फोन कर मुझे यह बताया कि, आरोपी ने बेटी को जला दिया।

कलियुग में हैवान बेटियों को अपना शिकार बनाने के बाद उन्हें मौत के मुंह में डाल देते हैं। ऐसे में अब देश में रहने वाली हर बेटी, मां, बहन डरी हुई हैं। ऐसे में अब सवाल फिर यह ही उठता है कि, कब तक ऐसे बेटियां जलती रहेंगी और रेप का शिकार होंगी। हैदराबाद में दरिंदगी के बाद पीड़िता को आग के हवाले कर दिया गया था और उन्नाव में भी पीड़िता को आग लगा दी गई थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।