बिहार में 'अग्निपथ स्कीम' पर मचा भारी बवाल और तेज हो रहा प्रदर्शन
बिहार में 'अग्निपथ स्कीम' पर मचा भारी बवाल और तेज हो रहा प्रदर्शनSocial Media

बिहार में 'अग्निपथ स्कीम' पर मचा भारी बवाल और तेज हो रहा प्रदर्शन

बिहार में 'अग्निपथ स्कीम' को लेकर भारी बवाल मचा हुआ है और इसका विरोध तेज होता जा रहा है। इस दौरान प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे,ट्रेनों को रोक रहे एवं आगजनी कर रहे।

बिहार, भारत। केंद्र की मोदी सरकार 'अग्निपथ भर्ती योजना' के तहत युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सेना में शामिल होने का मौका दे रही है। सरकार द्वारा बड़ी संख्या में युवाओं को सेना में भर्ती किए जाने के ऐलान से लोग खुश नहीं, बल्कि नाराजगी जता रहे है। उनकी इस घोषणा के बाद 'अग्निपथ स्कीम' को लेकर शुरू हुआ उग्र प्रदर्शन आज दूसरे दिन भी जारी है। अग्निपथ के विरोध में बिहार में भारी बवाल मचा हुआ है और इसका विरोध तेज होता जा रहा है।

लगातार दूसरे दिन सड़क पर उतरे प्रदर्शनकारी :

दरअसल, बिहार के जहानाबाद और नवादा में लगातार दूसरे दिन युवा प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे है, मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी किए जाने के साथ ही ट्रेनों को भी निशाना बनाया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार, छात्रों ने आक्रोश में आकर कई स्टेशनों पर ट्रेनों को रोक दिया और कई जगह हाईवे पर टायर में आग लगाकर उसे जलाया गया, जिससे यातायात व्यवस्था बाधित हुई है।

सड़कों को जाम कर की आगजनी :

तो वहीं, अग्निपथ स्कीम को लेकर बक्सर जिले एवं जहानाबाद में NH-83 और NH-110 में भी छात्रों ने बवाल कर, वहां सड़कों को जाम कर आगजनी की।

क्‍यों हाे रहा विरोध :

दरअसल, बीते समय देश में हाहाकार मचाने वाली महामारी कोरोना के चलते पहले ही सेना की बहाली पर काफी असर पड़ चुका है और पिछले 2 सालो से भर्तियां नहीं हुई और अब सरकार ने अग्निपथ योजना लाकर सभी पुरानी भर्तियों को इस योजना के दायरे में कर दिया। इसी कारण विरोध प्रदर्शन हो रहा है। खासकर वे युवा अधिक नाराज है, जिनकी उम्र सीमा अब खत्म या लगभग खत्म होने वाली है। तो वहीं, अधिकांश छात्र पुरानी भर्तियों के परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे थे।

बता दें कि, केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू की है। इस योजना के जरिए सेना में शामिल होने वाले युवाओं को अग्निवीर कहा जाएगा। इसके तहत नौजवानों को 4 साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देनी होगी। इस बारे में 14 जून को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने घोषणा करते हुए कहा था- 'अग्निपथ' योजना हमारी आर्म्ड फोर्सेस में परिवर्तन लाकर उन्हें पूरी तरह आधुनिक और अच्छी तरह से सुसज्जित बनाएगा। इसमें युवाओं की भर्ती 4 साल के लिए की जाएगी।

बिहार में 'अग्निपथ स्कीम' पर मचा भारी बवाल और तेज हो रहा प्रदर्शन
क्या है 'अग्निपथ स्कीम'? भारतीय सेना में क्यों हुई इसकी शुरुआत?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co