बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर तेजस्वी यादव का डॉक्टरों संग संवाद
बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर तेजस्वी यादव का डॉक्टरों संग संवादSocial Media

बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर तेजस्वी यादव का डॉक्टरों संग संवाद

बिहार में स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर ‘डॉक्टर्स डायलॉग विद तेजस्वी’ कार्यक्रम में RJD नेता तेजस्वी यादव ने डॉक्टरों से बातचीत की और कहीं ये बातें...

बिहार, भारत। बिहार की राजनीति में बिहार की स्वास्थ्य प्रणाली काे लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव हमलावर रूख अपनाएं हुए हैं और आज रविवार को RJD नेता तेजस्वी यादव ने इस मामलें पर डॉक्टरों से संवाद भी किया। दरअसल, राज्‍य की राजधानी पटना में ‘डॉक्टर्स डायलॉग विद तेजस्वी’ नाम का एक कार्यक्रम आयोजित हुआ।

तेजस्वी यादव ने डॉक्टरों संग बातचीत :

बिहार में स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर ‘डॉक्टर्स डायलॉग विद तेजस्वी’ कार्यक्रम में RJD नेता तेजस्वी यादव ने डॉक्टरों से बातचीत में बिहार के हेल्थ सिस्टम को कैसे दुरुस्त किया जाए, इसपर बातें की। इस दौरान एक डॉक्टर ने सवाल किया कि, ''2017 से वेटरनरी डॉक्टरों की वैकेंसी नहीं आ रहे हैं।'' इस पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जवाब देते हुए कहा कि, ''चलिए हम लोग साथ में लाठी खाते हैं।''

तेजस्वी यादव ने कहा- लॉकडाउन में पूरा समय सरकार को मिला था लेकिन सरकार उस समय न बेड बढ़ा पाई ना दवा का ठीक से इंतजाम कर पाई। गंगा में तैरती हुई लाशें कोविड के समय मिलती रहीं। हमारे एमएलए ने दवाओं का इंतजाम किया था। सरकार उस समय क्या कर रही थी? हमारी पार्टी में मास कैपिटल है, अब हमें ब्रेन कैपिटल भी चाहिए। नौजवानों, महिलाओं को राजद ने टिकट दिया। इसमें डॉक्टर, प्रोफेसर को भी टिकट दिया गया। हम घिसी-पिटी बात पर ध्यान नहीं देते।

बिहार की 50 फीसदी आबादी का पलायन हो रहा है :

इसके अलावा एक सवाल के जवाब में तेजस्वी यादव ने यह बात भी कही कि, ''बिहार में हर दूसरे घर से पलायन हो रहा है यानी बिहार की 50 फीसदी आबादी का पलायन हो रहा है। हमारी सरकार बनती तो 15 फीसदी पैसा हेल्थ के बजट में देते।'' इतना ही नहीं बल्कि उन्‍होंने यह आरोप भी लगाया कि, ''बिहार सरकार स्वास्थ्य विभाग में ही नहीं बल्कि हर विभाग में समय पर सैलरी नहीं दे रही है। बिहार में कोई गवर्नेंस है ही नहीं, जिसको महीनों से सैलरी नहीं मिलेगी उसका काम में कैसे ध्यान लगेगा बिहार में 70 घोटाले हो चुके हैं।''

हम नई सोच के हैं। हमें नया बिहार बनाना है। हमारी पार्टी में मास कैपिटल बहुत है, अब हमें ब्रेन कैपिटल, इंटेलेक्चुअल कैपिटल की ज़रूरत है। हम चाहते हैं कि इंजीनियर्स, डॉक्टर, प्रोफेसर जैसे प्रोफेशनल हमारी पार्टी से जुड़ें।

RJD नेता तेजस्‍वी यादव

जाति जनगणना बहुत जरूरी :

साथ ही तेजस्वी यादव ने यह भी कहा- जाति जनगणना बहुत जरूरी है इससे सही तस्वीर सामने आ सकेगी और बजट बनाने में सरकार को मदद मिलेगी। जब जाति का सही डेटा आपके पास होगा तभी सही तरीके से आरक्षण दिया जा सकता है। 27% आरक्षण मिल रहा है, वह कम है। हमारी सरकार बनेगी तो डॉक्टरों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जाएगा। बिहार के गांव देहात में मेडिकल केयर का इंतजाम नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.