चुनाव आयोग ने पासवान और पारस को पार्टी का नया चिह्न किया आवंटित
चुनाव आयोग ने पासवान और पारस को पार्टी का नया चिह्न किया आवंटितSocial Media

चुनाव आयोग ने पासवान और पारस को पार्टी का नया चिह्न किया आवंटित

चुनाव आयोग ने आज चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस को 'लोक जनशक्ति पार्टी' नाम का दोनों गुटों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिया है...

बिहार, भारत। बिहार में लोक जन शक्ति पार्टी (LJP) में अभी तक चाचा-भतीजे यानी चिराग पासवान और उनके चाचा पशुपति कुमार पारस के बीच की चल रहे विवाद को चुनाव आयोग ने सुलझाने का कदम उठाते हुए पार्टी के चुनाव चिह्न 'बंगला' को फ्रीज कर दिया था और आज दोनों गुटों को पार्टी के नए नाम एवं नया चुनाव चिह्न आवंटित कर दिया गया है।

हेलीकॉप्टर और सिलाई मशीन का चुनाव चिह्न आवंटित :

पारस और पासवान दोनों गुटों को 4 अक्टूबर तक अपनी पार्टी का नाम और नए सिंबल के लिए आयोग में आवेदन देने को कहा था, जिसके चलते अब चिराग और पारस के चुनाव चिन्ह आवंटित हो चुके हैं। दरअसल, चुनाव आयोग ने LJP के चुनाव चिह्न 'बंगला' छीनने के बाद अब पारस और पासवान को ये चुनाव चिह्न अलॉट किए गए हैं।

  • चिराग पासवान को 'लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास)' नाम और चुनाव चिन्ह 'हेलीकॉप्टर' आवंटित किया।

  • पशुपति कुमार पारस को 'राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी' नाम और 'सिलाई मशीन' चुनाव चिह्न आवंटित किया है।

बता दें कि,लोक जन शक्ति पार्टी (LJP) के संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद से ही पार्टी दो गुटों में बट गई, तभी से दोनों नेताओं में तनातनी जारी थी। ऐसे में दोनों ही नेताओं ने पार्टी के नाम और चुनाव चिन्ह के अधिकार को लेकर चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया था, जिसके चलते केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा पार्टी के चुनाव चिह्न 'बंगला' को फ्रीज यानी रोक लगाने के साथ ही दोनों गुटों को आयोग ने 4 अक्टूबर को 1 बजे तक अपने अपने गुट के लिए नया नाम और सिंबल के तीन विकल्प देने का आदेश दिया था। चुनाव आयोग का कहना था- पशुपति पारस या चिराग दोनों गुटों में से किसी को भी लोजपा के प्रतीक का उपयोग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। दोनों गुट अंतरिम उपाय के रूप में नए नाम और चुनाव चिह्न अपने उम्मीदवारों को आवंटित कर सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co