कोरोना प्रकोप की निगरानी के लिए HEOC शुरू करने वाला पहला राज्य बिहार

देश में ISRO के सहयोग से आपातकालीन स्वास्थ्य संचालन केंद्र की शुरुआत करने वाला बिहार पहला राज्य बन गया है। इस पोर्टल को कोरोना संक्रमण प्रभावित क्षेत्र (एपिसेंटर) के गांव को आधार मानकर बनाया गया है।
कोरोना प्रकोप की निगरानी के लिए HEOC शुरू करने वाला पहला राज्य बिहार
कोरोना प्रकोप की निगरानी के लिए HEOC शुरू करने वाला पहला राज्य बिहारSocial Media

राज एक्‍सप्रेस। देश में कोरोना वायरस की महामारी के बीच पहली बार ऐसा हुआ की किसी राज्‍य में COVID-19 के प्रकोप की निगरानी के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के सहयोग से एक हेल्थ इमरजेंसी ऑपरेटिंग सेंटर (HEOC) शुरूआत हुई हो। इस बारे में बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि, देश में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के सहयोग से आपातकालीन स्वास्थ्य संचालन केंद्र की शुरुआत करने वाला बिहार पहला राज्य बन गया है।

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने यहां बताया कि, इस पोर्टल को कोरोना संक्रमण प्रभावित क्षेत्र (एपिसेंटर) के गांव को आधार मानकर बनाया गया है। इस पोर्टल पर सभी जिलों के संबंध में जानकारी होगी तथा हर जिले में कोरोना का एपिसेंटर उस जिले के मैप पर कंटेनमेंट जोन के अनुसार प्रदर्शित होगा।

इस पोर्टल पर कंटेनमेंट जोन एपिसेंटर के तीन किलोमीटर के दायरे में होगा तथा बफर जोन सात किलोमीटर के दायरे में होगा। सरकार कोरोना पॉजिटिव मरीजों के एपिसेंटर के कंटेनमेंट जोन एवं बफर जोन को चिन्हित कर प्रत्येक जोन में आने वाले प्रत्येक गांव एवं उस गांव में अवस्थित घरों का स्क्रीनिंग कराएगी।
स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय

इतना ही नहीं आगे मंत्री द्वारा ये भी बताया गया है कि, नक्शे में कंटेनमेंट और बफर जोन में गांव की सूची, संख्या, गांव में घरों की संख्या एवं उस गांव की जनसंख्या की विस्तार से जानकारी रहेगी। इस जानकारी से ट्रेसिंग, टेस्टिंग एवं ट्रैकिंग टीम को रीयल टाईम जानकारी प्राप्त हो सकेगी, जिससे जांच में मदद मिलेगी।

साथ ही इस पोर्टल के माध्यम से कोरोना के उछ्वेदन एवं संक्रमण को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। बिहार के प्रभावित जिलों में कुल 37 कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। इन सभी जोन के प्रभारी एक नोडल पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी होंगे, जो प्रभावित क्षेत्र की निगरानी करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co