Fake notification of extension of lockdown in Bihar
Fake notification of extension of lockdown in Bihar|Social Media
भारत

क्या सच में बढ़ी है बिहार में लॉकडाउन की अवधि ?

बिहार में फिर से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने की घोषणा हो सकती है। हालांकि, बिहार में पहले भी कई बार लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा चुकी है। बिहार में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने से जुड़ा नोटिफिकेशन वायरल होता नजर आया।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

बिहार। पूरे भारत में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। देश में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 15 लाख से भी ऊपर पहुंच चुका है। हालांकि, 9 लाख ज्यादा लोग कोरोना की जंग जीत कर अपने घर भी लौटे हैं। कोरोना से बचने के सबसे अच्छा उपाय से सावधानी से घर में रहना। इसी के चलते बिहार में फिर से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने की घोषणा हो सकती है। हालांकि, बिहार में पहले भी कई बार लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा चुकी है।

बिहार में फिर लगेगा लॉकडाउन :

दरअसल, कोरोना से सावधानी रखने के लिए देश भर में लगातार 2 महीने से भी ज्यादा समय तक लॉकडाउन रहा। परंतु आर्थिक नुकसान को देखते हुए सरकार ने देश को अनलॉक कर दिया था। वहीं, अब कई राज्य की सरकारे अपने लेवल पर दोबारा लॉकडाउन का रास्ता चुनती नजर आ रही है। हाल ही में कई राज्यों द्वारा दोबारा लॉकडाउन लगाने के बाद बिहार की सरकार भी लॉकडाउन की घोषणा कर सकती है। इस दौरान ही बिहार राज्‍य सरकार के नाम से एक फेक नोटिफिकेशन सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जिसमे ऐसा बताया गया है कि, "बिहार में लॉकडाउन की अवधि 1 अगस्‍त से 16 दिनों तक के लिए बढ़ा दी गई है।"

सरकार ने दिया स्पष्टीकरण :

बिहार राज्‍य सरकार के नाम से जो फेक नोटिफिकेशन सोशल मीडिया पर वायरल हुआ इसे लेकर, बिहार की नितीश सरकार ने स्पष्टीकरण देते हुए बताया है कि, हमारी तरफ से फिलहाल लॉकडाउन के लिए कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है। नितीश सरकार द्वारा फर्जी नोटिफिकेशन को लेकर बिहार के सूचना व जनसंपर्क विभाग के ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर स्‍पष्‍ट करते हुए उस पत्र को फर्जी बताया साथ ही उसे लोगों से नजरअंदाज कर ने का आग्रह भी किया।

बिहार में लॉकडाउन :

बताते चलें, बिहार में कोरोना की स्थिति देखते हुए फिलहाल 31 जुलाई तक के लिए लॉकडाउन लागू है। हालांकि, इस दौरान कंटेनमेंट जोन को छोड़ कर कई चीजों में छूट दी गई है। बिहार में कई बार लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा चुकी है। बता दें, बिहार में

  • पहला लॉकडाउन 23 मार्च से 14 अप्रैल तक रहा।

  • दूसरा लॉकडाउन 15 अप्रैल से 3 मई तक रहा।

  • तीसरा लॉकडाउन 4 मई से 31 मई तक रहा।

  • चौथा लॉकडाउन 8 जुलाई से 15 जुलाई तक रहा।

  • पांचवा लॉकडाउन 16 जुलाई से 31 जुलाई तक रहा।

राज्य में कोरोना की स्थिति :

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, बिहार में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा 45,919 हो चुका है। वर्तमान में वहां एक्टिव मामले 15141 है और कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 273 तक पहुंच गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co