केंद्र सरकार और किसान संगठनों की बैठक- निकल सकता है कोई सकारात्मक हल
केंद्र सरकार और किसान संगठनों की बैठक- निकल सकता है कोई सकारात्मक हलTwitter

केंद्र सरकार और किसान संगठनों की बैठक- निकल सकता है कोई सकारात्मक हल

किसान संगठनों और केंद्र सरकार के बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अगुवाई में विज्ञान भवन में बातचीत हो रही है और इस बैठक में करीब 35 किसान संगठन शामिल हैं।

दिल्‍ली, भारत। नए कृषि कानूनों के विरोध में सिंघु बॉर्डर (दिल्ली-हरियाणा) पर किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार छठवे दिन जारी है और आज दोपहर 3 बजे विज्ञान भवन में केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच बातचीत शुुरू हो गई है।

राजनाथ सिंह की अगुवाई में सरकार की बैठक :

विज्ञान भवन में राजनाथ सिंह की अगुवाई में सरकार बैठक कर रही है, इस दौरान बैठक में अमित शाह, नरेंद्र सिंह तोमर, तो वहीं कुल 35 किसान संगठन के नेताओं ने हिस्सा लिया है। इस दौरान विज्ञान भवन में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के साथ किसान नेताओं की बैठक चल रही है। माना जा रहा है कि, इस बैठक से जरूर कोई सकारात्मक हल निकल सकता है।

आज शाम 7 बजे फिर बैठक :

गाजीपुर-गाजियाबाद बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा है कि, ''सरकार ने पंजाब के प्रतिनिधिमंडल को 3 बजे बुलाया है। इसके बाद सरकार उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, दिल्ली के प्रतिनिधिमंडल से शाम 7 बजे बातचीत करेगी। हम सभी इस मामले पर अंतिम फैसला चाहते हैं।''

MSP को कानूनी रूप दिलवाने पर अड़े किसान :

दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर किसान संगठनों ने डेरा जमाया हुआ है और सरकार से गुहार लगा रहे हैं। सभी किसान संगठनों की एक ही मांग है कि MSP पर सरकार पुख्ता वादा करे और इसे कानून में शामिल करे, किसान संगठनों को डर है कि मंडी से बाहर आते ही MSP पर असर पड़ेगा और धीरे-धीरे ये खत्म हो जाएगी, इन्हीं शंकाओं के चलते किसान लिखित में सरकार से आश्वासन चाहते हैं और MSP को कानूनी रूप दिलवाने पर अड़े हैं।

बता दें कि, किसानों से बातचीत से पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा के आवास पर एक अहम बैठक हुई, इस दौरान गृह मंत्री अमित शाह, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह किसानों के विरोध प्रदर्शन पर बैठक करने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा के आवास पहुंचे थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co