Farmers Protest: किसान आंदोलन स्थल पर किसानों व भाजपा समर्थकों में झड़प
Farmers Protest: किसान आंदोलन स्थल पर किसानों व भाजपा समर्थकों में झड़पSocial Media

Farmers Protest: किसान आंदोलन स्थल पर किसानों व भाजपा समर्थकों में झड़प

Farmers Protest: यूपी गेट पर किसान आंदोलन स्थल के अंदर भाजपा समर्थकों और किसानों के बीच मारपीट व झाड़प की वारदात। हंगामे की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचे...

दिल्ली, भारत। एक तरफ महामारी कोरोना वायरस का संकट रुकने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि, अभी कोरोना के मामलों में कमी आ रही है, लेकिन इस वायरस के संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है। तो वहीं, दिल्ली के बॉर्डर पर किसानों को केंद्र सरकार के नए कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन (Farmers Protest) जारी हैं। अन्नदाता कृषि कानून के विरोध में बीते 7 महीने से दिल्ली की तमाम सीमाओं समेत यूपी गेट पर प्रदर्शन कर रहे। इस बीच किसानों की भाजपा समर्थकों के साथ जमकर झड़प की वारदात सामने आई है।

बताया गया है कि, गाजियाबाद के दिल्ली-यूपी गाजीपुर बॉर्डर पर जारी किसान प्रदर्शन के बीच बुधवार सुबह बवाल मच गया। यहाँ यूपी गेट पर किसान आंदोलन स्थल के अंदर भाजपा कार्यकर्ता पहुंच गए, जिसके बाद उनके और किसानों के बीच मारपीट व झाड़प होने लगी। इस दौरान जब भाजपा समर्थकों और किसानों के हंगामे की सूचना पुलिस को मिली तो तुरंत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचे। भाजपा समर्थकों और किसानों के बीच हुई झड़प की घटना में भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ी तोड़ी गई है। तो वहीं, इस घटना के बाद गाजियाबाद एसएसपी कार्यालय पर भाजपाइयों ने जाम लगा दिया है। कहा जा रहा है कि, किसानों द्वारा भाजपाइयों की गाड़ी में तोड़फोड़ करने के विरोध में ये जाम लगाया गया है।

BKU प्रवक्ता राकेश टिकैत ने दिया यह बयान :

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत का बयान भी सामने आया जिसमें उन्होंने कहा कि, "भाजपा के कार्यकर्ता मंच पर कब्जा करना चाहते थे। यह लोग यहां बीते कई दिनों से आ रहे हैं और माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा के किसी भी कार्यकर्ता को प्रदेश में नहीं जाने दिया जाएगा। गांवों में भाजपा के झंडे लगी गाड़ियों को नहीं चलने दिया जाएगा। यदि किसानों का मंच इतना पसंद है तो पार्टी को छोड़ कर आ जाएं किसान संगठन उनका स्वागत करेंगे। उन्होंने हंगामा और मारपीट करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है।"

इस दौरान यह बात सामने आ रही हैं कि, भाजपा के नवनियुक्त प्रदेशमंत्री अमित वाल्मीकि का स्वागत करने के लिए कार्यकर्ता दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर खड़े थे। आराेप है कि, दिल्ली से गाजियाबाद वाली लेन पर वाहनों का काफिला जब किसानों के मंच के सामने पहुंचा, तो किसानों और भाजपाइयों में नोकझोंक हो गई। किसानों का आरोप है कि, भाजपाइयों ने उन्हें अपशब्द कहे, जबकि भाजपाइयों का आरोप है कि, "किसानों ने अभद्रता की है। किसानों ने उनके खिलाफ नारेबाजी की और कुछ गाड़ियों में ताेड़फाेड़ की। अब मामले में भाकियू की तरफ से भी पुलिस को शिकायत दी जा रही है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co