किसान संघ का आज राष्ट्रव्यापी 'रेल रोको' आंदोलन- शाम तक किसान रोकेंगे ट्रेनें
किसान संघ का आज राष्ट्रव्यापी 'रेल रोको' आंदोलनSyed Dabeer Hussain - RE

किसान संघ का आज राष्ट्रव्यापी 'रेल रोको' आंदोलन- शाम तक किसान रोकेंगे ट्रेनें

लखीमपुर कांड के बाद केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग को लेकर आज संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) द्वारा देश भर में 'रेल रोको आंदोलन' शुरू किया गया है, जो शाम तक चलेगा...

हाइलाइट्स:

  • संयुक्त किसान मोर्चा का देश भर में 'रेल रोको आंदोलन'

  • किसान आज शाम 6 बजे तक रोकेंगे ट्रेनें

  • केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग

दिल्‍ली, भारत। केंद्र सरकार की ओर से जब से तीन नए कृषि कानूनों को लागू किया तब से इन कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच लखीमपुर कांड हुआ था, जिसको लेकर किसानों का गुस्‍सा और आग बबूला हो गया है और इसी मामले पर आज संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) द्वारा देश भर में 'रेल रोको आंदोलन' शुरू किया गया है।

किसान संघ की अजय मिश्रा को बर्खास्त की मांग :

दरअसल, संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) का यह आंदोलन केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को केंद्रीय मंत्रिमंडल से बर्खास्त की मांग के लिया किया जा रहा है। संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने लखीमपुर मामले को नरसंहार बताया और उनका यह कहना है कि, ''लखीमपुर मामले में निष्पक्ष जांच तब तक नहीं हो सकती जब तक केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त नहीं किया जाता। संगठन के नेताओं की मांग है कि, मिश्रा को मंत्रिमंडल से हटाने के बाद उन्हें गिरफ्तार भी किया जाए।''

शाम 6 बजे तक ट्रेनें रोकेंगे किसान :

बताया जा रहा है कि, 'रेल रोको आंदोलन' आज सुबह से शुरू हो गया, जिसके चलते किसान कई रेलवे स्‍टेशनों पर ट्रेन रोंकेगे और उनका यह आंदोजल आज 18 अक्टूबर को सुबह 10 बजे से शुरू हुआ, जो शाम के 6 बजे तक चलेगा। किसान शाम 6 बजे तक ट्रेनें रोकेंगे। ऐसे में कई रेलवे स्टेशनों और उनके आसपास के रेल सेक्शंस पर सेवाएं ज्यादा प्रभावित होने की आशंका है।

हालांकि, इस दौरान SKM ने किसी भी रेलवे संपत्ति को किसी भी प्रकार की क्षति से बचने और क्षति के बिना शांतिपूर्वक आंदोलन का आह्वान किया है। तो वहीं, बीते दिन शनिवार को किसान संघों के अंब्रेला बॉडी द्वारा जारी एक बयान में कहा था, "अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग के लिए दबाव डालने के लिए, ताकि लखीमपुर खीरी हिंसा में न्याय सुरक्षित किया जा सके, एसकेएम ने 18 अक्टूबर को एक राष्ट्रव्यापी रेल रोको कार्यक्रम की घोषणा की है।"

क्‍या है लखीमपुर कांड :

बता दें कि, 3 अक्टूबर के दिन लखीमपुर खीरी में एक कांड हुआ था। किसानों ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा का विरोध करते हुए काले झंडे दिखाए थे। इसी दौरान एक गाड़ी ने किसानों पर गाड़ी चलाकर कुचल दिया था, जिसमें 4 किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद से किसान इस मामलें का विरोध कर रहे हैं और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ हत्या और आपराधिक साजिश का केस दर्ज किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co