Raj Express
www.rajexpress.co
सैन्य दिवस की परेड का नेतृत्व करने वालीं पहली महिला कैप्टन बनीं तानिया शेरगिल
सैन्य दिवस की परेड का नेतृत्व करने वालीं पहली महिला कैप्टन बनीं तानिया शेरगिल|ट्विटर
भारत

72वें सैन्य दिवस पर पहली बार महिला कैप्टन ने किया परेड का नेतृत्व

आज भारतीय सेना का 72वां सैन्य दिवस है। इस मौके पर पहली बार एक महिला कैप्टन तानिया शेरगिल ने परेड का नेतृत्व किया। वे गणतंत्र दिवस पर भी परेड का नेतृत्व करेंगी।

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। आज सैन्य दिवस की 72वीं वर्षगांठ है। इस अवसर पर दिल्ली में होने वाली सैन्य परेड का नेतृत्व कैप्टन तानिया शेरगिल ने किया। वे पहली महिला अधिकारी हैं जिन्होंने सैन्य दिवस पर होने वाली परेड में सभी पुरूष टुकड़ियों का नेतृत्व किया। इससे पहले पिछले साल कैप्टन भावना कस्तूरी गणतंत्र दिवस पर सभी टुकड़ियों की परेड का नेतृत्व करने वाली पहली महिला अधिकारी बनी थीं। इस वर्ष गणतंत्र दिवस की परेड का भी नेतृत्व कैप्टन तानिया करेंगी।

कैप्टन तानिया शेरगिल सेना के सिग्नल कोर में कैप्टन हैं। होशियारपुर से आने वालीं तानिया अपने परिवार में चौथी पीढ़ी की सैन्य अधिकारी हैं और पहली महिला अधिकारी जिन्हें पुरुषों की परेड का नेतृत्व करने का मौका मिला। उनका पूरा परिवार सेना में काम कर चुका है। उनके पिता तोपखाने (अर्टिलरी), दादा बख्तरबंद (आर्मर्ड) और परदादा सिख रेजिमेंट में पैदल सैनिक (इन्फेंट्री) के तौर पर सेवा दे चुके हैं।

प्रशिक्षण अकादमी, चेन्नई से मार्च 2017 में कमीशन प्राप्त करने वाली तानिया शेरगिल ने इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार में स्नातक किया है। उन्हें सैन्य अनुशासन पारिवारिक विरासत में मिला है। उन्होंने इंजिनियरिंग की पढ़ाई के बाद सेना में भर्ती होने का फैसला किया।

दिल्ली में सेना मुख्यालय के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों में सैन्य परेड और शक्ति प्रदर्शन के अन्य कार्यक्रमों का आयोजन करके सेना दिवस मनाया जाता है। दिल्ली कैंट के करियप्पा परेड ग्राउंड में हर वर्ष मुख्य कार्यक्रम होता है। इस दौरान शानदार सैन्य झलकियां दिखाई जाती हैं। सेना प्रमुख को सलामी देने के साथ कार्यक्रम की शुरुआत होती है। सेना पदक जैसे बहादुरी पुरस्कार भी इस दिन वितरित किए जाते हैं। सैन्य दिवस पर देश के उन बहादुर और साहसी सैनिकों को याद किया जाता है जिन्होंने देश की रक्षा में अपने प्राणों की कुर्बानी दे दी।

सेना मुख्यालय पर परेड के पहले चीफ ऑफ डिफेंस जनरल विपिन रावत, आर्मी के चीफ मनोज मुकुन्द नरवणे, चीफ ऑफ एयर स्टॉफ एयर चीफ मार्शल आर. के. एस. भदौरिया और नेवी चीफ एडमिरल करमवीर सिंह ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। समाचार एजेंसी एएनआई ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।