भारत को गौरवान्वित और दुश्मन के छक्के छुड़ाने भारत आया बाहुबली राफेल

भारत की धरती पर 5 राफेल लड़ाकू विमानों की अंबाला एयरबेस पर लैंडिंग होते ही इंतजार खत्म हुआ और भारत को गौरवान्वित करने वाला पल व दुश्मनों के छक्के छुड़ा देने वाला बाहुबली 'राफेल' आज आ ही गया है
भारत को गौरवान्वित और दुश्मन के छक्के छुड़ाने भारत आया बाहुबली राफेल
भारत को गौरवान्वित और दुश्मन के छक्के छुड़ाने भारत आया बाहुबली राफेलTwitter

दिल्‍ली, भारत। भारतीय सरजमीं पर फ्रांस से आए दुनिया का सबसे ताकतवर लड़ाकू विमान 'राफेल' आज 29 जुलाई को भारत की जमीन पर आ गए हैं, आखिर भारत को गौरवान्वित करने वाला पल आ ही गया है।

तकरीबन 7300 किलोमीटर का सफर तय करने के बाद अब आसमान के बाहुबली राफेल ने हरियाणा के अंबाला एयरबेस पर लैंड हो चुके हैं और इस दौरन बाहुबली राफेल का स्वागत वाटर सैल्यूट के साथ किया गया, इस दौरान वायुसेना चीफ RKS भदौरिया भी मौजूद रहे।

अंबाला एयरबेस पर लैंड हुए राफेल :

बताया गया है कि, दुश्मनों के छक्के छुड़ा देने वाला बाहुबली राफेल के पांचों विमान अंबाला एयरबेस पर लैंड कर चुके हैं, UAE से उड़ान भरने के बाद दोपहर 3.00 बजे के करीब अंबाला के एयरबेस पर विमान लैंड हुए। इस बारे में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर राफेल विमान के लैंड होने की जानकारी दी है और वायुसेना को बधाई दी है। साथ अपने ट्विटर अकाउंट से राफेल का टचडाउन का वीडियो भी शेयर किया हैं, जो आप यहां देख सकते है-

विमान अंबाला में सुरक्षित लैंड कर गए हैं, यह सैन्य इतिहास में भारत एक नया युग शुरू कर रहा है। मैं वायुसेना को बधाई देता हूं, मुझे विश्वास है कि 17 स्क्वॉड्रन गोल्डन ऐरो अपने लक्ष्य में कामयाब रहेगा, मुझे बहुत खुशी है कि हमारी क्षमता लगातार बढ़ रही है।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

एयरबेस पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी :

5 बेहद खतरनाक लड़ाकू विमान 'राफेल' के हरियाणा के अंबाला एयर बेस पहुंचेने से पहले ही अंबाला एयरबेस और आसपास के क्षेत्रों में राफेल के भारत आने से पहले ही सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर रखने के साथ ही एयरबेस के आस-पास ड्रोन उड़ाने, फोटोग्राफी पर पाबंदी लगा रखी और एयरबेस के आस-पास 3 किलोमीटर दायरे में धारा-144 भी लागू है।

सैन्य इतिहास में एक नये युग की शुरुआत :

बता दें कि, भारत के पास पहले से ही 'मिग, सुखोई, वायसन और मिराज' जैसे कई लड़ाकू विमान मौजूद हैं, इसी बीच अब राफेल विमान भी भारत को मिल गया, जिसको लेकर भारत में खासा उत्साह है। साथ ही अब भारतीय वायुसेना के बेड़े में लड़ाकू विमान 'राफेल' के शामिल होने से भारत की वायुसेना की ताकत कई गुना बढ़ गई है रूा कहे भारतीय वायुसेना की शक्ति में बढ़ोतरी हुई है और आज आखिरकार भारतीय सेना में राफेल का शामिल होने का सपना भी पूरा हो ही गया तथा सैन्य इतिहास में एक नये युग की शुरुआत हुई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co