Arun Jaitley Birth Anniversary
Arun Jaitley Birth AnniversarySyed Dabeer Hussain - RE

Arun Jaitley Jayanti : नोटबंदी से लेकर जीएसटी तक, वित्तमंत्री रहते हुए अरुण जेटली ने लिए ये बड़े फैसले

पहले हमारे देश में फरवरी महीने के आखिर में बजट पेश किया जाता था, लेकिन अरुण जेटली के वित्तमंत्री रहते हुए इस परम्परा को भी खत्म कर दिया गया।

राज एक्सप्रेस। आज देश के पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता रहे अरुण जेटली की जयंती है। 28 दिसंबर 1952 को दिल्ली के पंजाबी हिंदू मोहयाल ब्राह्मण परिवार में जन्मे अरुण जेटली एक राजनेता के अलावा एक अच्छे वकील भी थे। छात्र नेता के रूप में अपनी राजनीति की शुरुआत करने वाले अरुण जेटली साल 2014 में नरेंद्र मोदी की सरकार में वित्तमंत्री बने। वित्तमंत्री रहते हुए अरुण जेटली ने ऐसे कई बड़े फैसले लिए, जिसके लिए उन्हें आज भी याद किया जाता है।

नोटबंदी :

साल 2016 में जब प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था, उस समय अरुण जेटली देश के वित्तमंत्री थे। कहा जाता है कि वित्तमंत्री होने के नाते नोटबंदी के फैसले में उनकी बड़ी भूमिका थी।

जीएसटी :

भारत में अलग-अलग टैक्स व्यवस्था के चलते कई तरह की परेशानियां होती थीं। ऐसे में अरुण जेटली ने साल 2017 में देश में जीएसटी लागू करके टैक्स व्यवस्था लागू कर दी। भारत में कर सुधार व्यवस्था का यह सबसे अहम कदम माना जाता है।

रेल और आम बजट एक साथ :

हमारे देश में साल 1924 से रेल बजट और आम बजट अलग-अलग पेश करने की परम्परा थी। लेकिन अरुण जेटली ने साल 2017 में इस परम्परा को खत्म करते हुए रेल बजट को आम बजट में शामिल कर लिया।

बजट पेश करने की तारीख :

पहले हमारे देश में फरवरी महीने के आखिर में बजट पेश किया जाता था, लेकिन अरुण जेटली के वित्तमंत्री रहते हुए इस परम्परा को भी खत्म कर दिया गया। उन्होंने 1 फरवरी को बजट पेश करने की परम्परा शुरू की।

दिवालिया कानून :

अरुण जेटली ने साल 2016 में देश में दिवालिया कानून लागू किया। इससे बैंकों और अन्य लेनदारों को दिवालिया कंपनी से वसूली में मदद मिली।

मुद्रा योजना :

वित्तमंत्री रहते हुए अरुण जेटली ने साल 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत लोगों को अपना बिजनेस शुरू करने के लिए लोन दिया जाता है।

एफडीआई :

अरुण जेटली ने विदेशी निवेश को बढ़ावा देने के लिए एफडीआई के नियमों को सरल बनाया। उन्होंने फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड का भी गठन किया। उनके प्रयासों के चलते ही साल 2014 के मुकाबले साल 2019 में एफडीआई करीब दोगुना हो गया।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co