क्‍या अब रूकेगा अग्निपथ का विरोध! सरकार ने युवाओं को समझाएं स्कीम के फायदे

अग्निपथ योजना के खिलाफ भड़के हिंसक आंदोलन को संभालने के लिए सरकार ने अनौपचारिक रूप से एक फैक्ट शीट जारी कर योजना के फायदे गिनाएं...
क्‍या अब रूकेगा अग्निपथ का विरोध! सरकार ने युवाओं को समझाएं स्कीम के फायदे
सरकार ने युवाओं को समझाएं स्कीम के फायदेSocial Media

दिल्‍ली, भारत। केंद्र की मोदी सरकार की 'अग्निपथ भर्ती योजना' को लेकर देशभर में विराेध हिंसक हो गया है और आक्रोश का माहौल बना हुआ है। गुस्‍से में प्रदशकारियों द्वारा कहीं गाड़ियों को आग के हवाले किया जा रहा है, तो कहीं ट्रेन की पटरियां उखाड़ी जा रही है। इस दौरान अग्निपथ के हिंसक आंदोलन को संभालने के लिए सरकार की और से विरोध कर युवाओं को स्कीम के फायदे बताएंं गए है।

अनौपचारिक रूप से एक फैक्ट शीट की जारी :

दरअसल, हाल ही अग्निपथ स्‍कीम का विरोध करने वालों के लिए सरकार की और से 'अग्निपथ, मिथक बनाम तथ्य।' टाइटल नाम से अनौपचारिक रूप से एक फैक्ट शीट जारी की गई है। इस शीट के जरिए सरकार ने अपना पक्ष रखने की कोशिश करते हुए अग्निपथ स्‍कीम पर उठ रहे सवाल के जवाब दिए हैं। सरकार का कहना है कि, ''जो लोग आंत्रप्रेन्योर बनना चाहेंगे उन्हें वित्तीय सहायता और लोन उपलब्ध करवाया जाएगा। जो लोग आगे की पढ़ाई करना चाहेंगे उन्हें कक्षा 12 के समान सर्टिफिकेट दिया जाएगा और आगे की पढ़ाई के लिए ब्रिजिंग कोर्स उपलब्ध करवाया जाएगा। जो लोग नौकरी चाहते हैं उनको सीएपीएफ और राज्यों की पुलिस भर्ती में वरीयता दी जाएगी।''

सरकार ने सफाई देते हुए कहीं ये निम्‍न बातें-

  • अग्निपथ स्कीम से युवाओं के लिए अवसर बढ़ेगे। आने वाले सालों में वर्तमान से तीन गुनी ज्यादा भर्तियां होंगी।

  • रेजिमेंटल सिस्टम में कोई परिवर्तन नहीं किया जा रहा है। बेस्ट अग्निवीर को सेना में स्थायी किया जाएगा, इससे उनमें आपसी तालमेल बढ़ेगा।

  • इस तरह की शॉर्ट टर्म स्कीम ज्यादातर देशों में चलाई जा रही हैं और पहले से जांची परखी हैं। यह युवाओं के लिए बड़ा अवसर है। पहले साल जितने अग्नीवीर भर्ती होंगे वे सेना के 3 फीसदी होंगे।

  • चार साल बाद उन्हें सेना में स्थायी करने से पहले फिर से उनका टेस्‍ट होगा, इसलिए सेना में भर्ती होने वाले लोग पूरी तरह से जांचे परखे और ट्रेन्ड होंगे।

  • दुनियाभर में ज्यादातर सेनाएं युवाओं पर ही निर्भर हैं। इस योजना के जरिए युवा और अनुभवी लोगों के बीच 50-50 का अनुपात करने की कोशिश की जाएगी।

  • सरकार ने अग्निवीरों के समाज के लिए खतरा बनने के सवाल पर जवाब दिया कि, ऐसा कहना भी सेना के मूल्यों का अपमान है। जो युवा एक बार यूनीफॉर्म पहनेगा वह जिंदगीभर देश की सेवा करेगा।

  • आज भी सेना से रिटायर होने वाले लोग देशभक्त होते हैं और देश विरोधी संगठनों में शामिल नहीं होते।

यह है सरकार द्वारा जारी की गई फैक्ट शीट-

Attachment
PDF
agnipath_facts.pdf
Preview

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co