ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को किया गया वीर चक्र से सम्मानित
ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को किया गया वीर चक्र से सम्मानित Social Media

ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को किया गया वीर चक्र से सम्मानित

भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान पाक की वायु सेना के F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराकर भारत लौटे थे। वहीं, उनके द्वारा किए गए इस कार्य के उन्हें वीर चक्र से सम्मानित किया गया है।

दिल्ली, भारत। हमारे देश की और हमारे देश के जवानों की कई ऐसी दास्तान है जो सराहनीय है। जिन्हें भुला पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है और उसके लिए इन जवानों को कितना भी सम्मान दिया जाए वो कम होता है। क्योंकि, वह अपनी जान की परवाह किए बिना देश के लिए इतना कुछ कर जाते हैं। इन्हीं किस्सों में 27 फरवरी 2019 का वो किस्सा भी शामिल है जब भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान पाकिस्तान की वायु सेना के F-16 लड़ाकू विमान को हवाई युद्ध में मार गिराकर भारत लौटे थे। वहीं, उनके द्वारा किए गए इस कार्य के उन्हें वीर चक्र से सम्मानित किया गया है।

वीर चक्र से किया गया सम्मानित :

दरअसल, आज शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे वो दिन न याद हो जब वायु सेना के तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने पाकिस्तान के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान पाक के एफ-16 विमान को मार गिराया था। इसके बाद वह पाकिस्तान की सीमा में ही रह गए थे। वह दुश्मन देश में 24 घंटों से भी ज्यादा का समय बिता कर भारत लौटे थे। वहीं, अब अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान के फाइटर जेट F-16 को मार गिराने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा वीर चक्र से सम्मानित किया गया है। हालांकि, अब वह भारतीय वायु सेना के ग्रुप कैप्टन बन चुके हैं।

अभिनंदन की वीरता की कहानी :

पुलवामा हमले के बाद भारत दवारा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक की थी। इस दौरान में कई आतंकी मारे गए साथ ही उनके ठिकाने भी उड़ा दिए गए थे। उसके बाद पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की थी, जिसका सामना कर भारत ने करारा जवाब दिया था। इसी दौरान कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को CRPF के काफिले पर फिदायीन हमला किया गया तब इसमें 40 जवान शहीद हुए थे। हमले की जिम्मेदारी आतंकी मसूद अजहर के संगठन ने ली थी। इस हमले के बदले में भारत द्वारा 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक की। उसका बदला लेने पाक ने 27 फरवरी को कुछ एफ-16 विमान भारत के सैन्य ठिकानों पर भेजे थे तब भारत के मिग-21 और मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने उसे मार गिराया और यह मिग-21 के पायलट अभिनंदन द्वारा चलाया जा रहा था। इस दौरान अभिनंदन का विमान भी PoK में जा गिरा और पाकिस्तानी सैनिकों ने अभिनंदन को पकड़ लिया। इसके बाद वह 1 मार्च को भारत लौट थे।

अभिनंदन की वीरता का प्रतिक
अभिनंदन की वीरता का प्रतिक

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co