पंजाब के साथ ही इन राज्यों में भी पनप रहा है गन कल्चर और गैंगवार
पंजाब के साथ ही इन राज्यों में भी पनप रहा है गन कल्चर और गैंगवारSyed Dabeer Hussain - RE

पंजाब के साथ ही इन राज्यों में भी पनप रहा है गन कल्चर और गैंगवार

गन कल्चर और गैंगवार में केवल पंजाब का ही नाम शामिल नहीं है, क्योंकि देश में कई राज्य और शहर ऐसे हैं जो हथियारों के मामले में पंजाब को भी मात देते हैं।

राज एक्सप्रेस। कुछ दिनों पहले दिनदहाड़े हुई मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या ने देशभर में सनसनी फैला दी है। इसके साथ ही हर जगह पंजाब में बढ़ रहे गन कल्चर को लेकर भी बहस बढ़ गई है। लोगों में हथियार रखने का शौक भी बढ़ रहा है और आए दिन गैंगवार की खबरें भी आम हैं। लेकिन गन कल्चर और गैंगवार में केवल पंजाब का ही नाम शामिल नहीं है, क्योंकि देश में कई राज्य और शहर ऐसे हैं जो हथियारों के मामले में पंजाब को भी मात देते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि देश के किस-किस राज्य में क्राइम रेट सबसे अधिक है।

सबसे पहले बात करते हैं ऐसे जिलों और राज्यों की जहां पंजाब के मुकाबले अधिक लोगों के पास हथियार हैं और हथियारों से जुड़े क्राइम भी यहां अधिक होते हैं।

शाहजहांपुर :

यहां पर साल 2020 के दौरान हथियारों से जुड़े केसों की संख्या 1570 पर पहुंच चुकी है। जो कि पंजाब के मुकाबले 364प्रतिशत ज्यादा है।

इंदौर :

मध्य प्रदेश के इस शहर में साल 2020 के दौरान हथियारों से जुड़े केसों की संख्या 1556 पर पहुंच चुकी है। जो कि पंजाब के मुकाबले 361प्रतिशत ज्यादा है।

मेरठ :

इस सूची में मेरठ का नाम भी शामिल है और यहां साल 2020 में हथियारों से जुड़े केसों की संख्या 1522 है। जो कि पंजाब के मुकाबले 353 प्रतिशत ज्यादा है।

बुलंदशहर :

क्राइम के मामले में बुलंदशहर भी काफी आगे है। साल 2020 में यहा 1475 केस दर्ज हुए हैं। जो कि पंजाब के मुकाबले 342 प्रतिशत ज्यादा है।

गाजियाबाद :

साल 2020 में यहाँ हथियारों से जुड़े केसों की संख्या 1334 देखी गई है। जो कि पंजाब के मुकाबले 309.5 प्रतिशत ज्यादा है।

पंजाब :

ख़बरों में सबसे आगे रहने वाले पंजाब में साल 2020 के दौरान केवल 431 केस दर्ज हुए हैं, जोकि ऊपर बताए गए जिलों से काफी कम हैं।

वहीं हथियार रखने के मामले में भी पंजाब काफी पीछे हैं। चलिए समझते हैं कैसे?

मध्य प्रदेश :

इस राज्य की आबादी करीब 7.26 करोड़ है और यहां 14.1 लाख लाइसेंसी बंदूकें पंजीकृत हैं।

उत्तर प्रदेश :

देश की सबसे अधिक जनसंख्या वाले इस राज्य में करीब 13 लाख से भी अधिक लाइसेंसी हथियार हैं। यही प्रति लाख व्यक्ति पर करीब 650 बंदूकें।

दिल्ली :

देश की राजधानी दिल्ली में हथियारों का यह आंकड़ा 9.4 लाख है।

जम्मू-कश्मीर :

देश के इस खूबसूरत राज्य में प्रति लाख व्यक्तियों पर 4.85 लाख लाइसेंसी बूंदकें हैं।

पंजाब :

राज्य सरकार के आंकड़े बताते है कि यहां कि पुलिस के पास 1,25,000 हथियार हैं। जबकि वहीं राज्य की आबादी में करीब 1.4 लाख लोगों के पास लाइसेंसी हथियार हैं। कट्टे और रिवॉल्वर के साथ इन हथियारों में आधुनिक हथियार भी शामिल हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co