तमिलनाडु के कई हिस्से झमाझम बारिश से भीगे, जनजीवन अस्त-व्यस्त
तमिलनाडु के कई हिस्से झमाझम बारिश से भीगे, जनजीवन अस्त-व्यस्तSocial Media

तमिलनाडु के कई हिस्से झमाझम बारिश से भीगे, जनजीवन अस्त-व्यस्त

तमिलनाडु राज्य के कई हिस्से झमाझम बारिश की बौछार से भीगे हुए हैं जिससे जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त नजर आ रहा है। इस बीच केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का भरोसा दिया गया है।

तमिलनाडु, भारत। बारिश का एक पर्टिकुलर मौसम होता है, जिसे मानसून सीजन कहते हैं और अभी तो सर्दियों का मौसम आ गया है, फिर भी यहां तेज बारिश ने आफत मचा रखी है। तमिलनाडु राज्य के कई हिस्से झमाझम तेज बारिश की बौछार से भीगे हुए हैं, यहां पिछले दो दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त नजर आ रहा है।

तमिलनाडु में आफत की बारिश जारी :

पूर्वोत्तर-मानसून के सक्रिय होने के कारण तमिलनाडु में आफत की बारिश जारी है, इस दौरान 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 538 झोपड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं। तो वहीं, यहां के मदुरै में तेज़ बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक रामेश्वरम, मदुरै में तेज बारिश हो रही है। चेन्नई शहरों की सड़कों और गलियों में भारी का जलजमाव है। निचले इलाकों में दो फीट तक पानी भर गया। हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन से बात की और केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।

बारिश का ये दौर अगले 5 दिन तक जारी :

इसके अलावा मौसम विभाग ने कहा है कि, ''बारिश का ये दौर अगले 5 दिन तक जारी रहने वाला है। मौसम के बिगड़े हाल को देखते हुए मछुआरों को समुद्र में जाने से रोका गया है। कई क्षेत्रों में बाढ़ और भूस्खलन का खतरा व्याप्त हो गया है।'' ​इसके अलावा मौसम विभाग के अधिकारियों का कहना है कि, ''लगातार बारिश के चलते कुछ जगहों भूस्खलन की घटनाएं घटित हो सकती हैं। लिहाजा सरकार ने मदुरै में एनडीआरएफ की 44 कर्मियों की दो टीम भेजी गयी हैं।''

अगर यहां पर बारिश तेज होती है तो और ज्यादा नुकसान होने की आशंका है। अभी यहां के मदुरै में भारी बारिश जारी है। जिला कलेक्टर ने मदुरै में सथायार बांध में जलस्तर का निरीक्षण किया है।

तमिलनाडु के राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री केकेएसएसआर रामचंद्रन

एनडीआरएफ के निरीक्षक ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि, ''तमिलनाडु के मदुरै में तेज़ बारिश हो रही है। ऐसे में हमारी टीमें किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैनात की गई हैं। हम मदुरै के आपदा प्रबंधन विभाग और कलेक्टर के संपर्क में रहेंगे।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co